Advertisement

विदेश से आने वालों के लिए मुंबई एयरपोर्ट पर अलग कॉरिडोर

उच्च जोखिम वाले देशों की सभी उड़ानें टर्मिनल के पूर्व में उतरेंगी।

विदेश से आने वालों के लिए मुंबई एयरपोर्ट पर अलग कॉरिडोर
SHARES

अप्रवासी विदेशी यात्रियों और उनके संपर्क में आने वाले लोगों से संक्रमित हो रहे हैं।  इसलिए हाई रिस्क वाले देशों से आने वाले यात्रियों के लिए मुंबई एयरपोर्ट(Mumbai airport)  पर अलग कॉरिडोर बनाया जाएगा।

उच्च जोखिम वाले देशों की सभी उड़ानें टर्मिनल के पूर्व में उतरेंगी।  यात्री के एयरपोर्ट में प्रवेश करते ही तापमान को थर्मल स्कैनर से मापा जाएगा।  तब से अब तक RTPCR टेस्टिंग के लिए 100 रजिस्ट्रेशन काउंटर स्थापित किए जा चुके हैं।

यात्रियों को कोरोना टेस्ट (Corona test)  के लिए इंतजार न करना पड़े, इसके लिए 68 सैंपल कलेक्शन बूथ बनाए गए हैं।  यात्रियों के पास दो विकल्प होंगे आरटीपीसीआर (RT PCR) और रैपिड पीसीआर।  

इस बीच, यदि यात्री की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आती है, तो उसे 14 दिनों के लिए संस्थागत आइसोलेशन में रखा जाएगा।  रिपोर्ट निगेटिव आने पर 7 दिन होम क्वारंटाइन किया जाएगा।  इस यात्री की 7 दिन बाद दोबारा जांच की जाएगी।


 यह भी पढ़ेकैसर मरीजो के लिए मुंबई में भी बने 'बंगा भवन',ममता बनर्जी ने की मांग

Read this story in मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें