दादर से नैनीताल के लिए रेल सेवा

राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की मांग पर रेल मंत्रालय ने मुंबई से नैनीताल के बीच ट्रेन चलाने का फैसला लिया है

दादर से नैनीताल के लिए रेल सेवा
SHARES

राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की मांग पर रेल मंत्रालय ने मुंबई से नैनीताल के बीच ट्रेन चलाने का फैसला लिया है। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने दादर  से रामनगर (नैनीताल) के बीच ट्रेन चलाने को सैद्धांतिक मंजूरी दे दी है। यह ट्रेन सताह में दो बार चलाई जाएगी। राज्यपाल कोश्यारी ने पहले पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक को पत्र लिखकर मुंबई से नैनीताल के बीच ट्रेन सेवा शुरू करने का आग्रह किया था।

इसके बाद अपर महाप्रबंधक (पश्चिम रेलवे) ने कोश्यारी को सूचित किया था कि दादर से राम नगर तक वीकली ट्रेन चलाने के लिए रेलवे बोर्ड को सिफारिश कर दी गई है।  इसके बाद राज्यपाल ने रेल मंत्री पीयूष गोयल से बात की। गोयल ने जल्द ही इस संबंध में उचित कदम उठाने का आश्वासन दिया है।

मुंबई में लाखों उत्तराखंडी के साथ-साथ उत्तर प्रदेश के ब्रज, रूहेलखंड और नेपाल के प्रवासी भारी संख्या में रहते हैं। राज्यपाल की प्रस्तावित इस नई ट्रेन में दो डिब्बे टनकपुर के लिए इज्जतनगर तक लगाने और उन्हें अन्य ट्रेन तक जोड़ने का भी आग्रह किया है। आपको बता दें कि उत्तराखंड के नैनीताल को देश के मशहूर पर्यटन स्थलों में से एक माना जाता है ।

हर साल लाखों की संख्या में मुंबई और आसपास के इलाकों से लोग उत्तराखंड के नैनीताल जाते हैं लिहाजा राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने केंद्रीय मंत्री से यह ट्रेन शुरू करने के आवेदन किया था जिसके बाद रेल मंत्री पीयूष गोयल ने तुरंत ही इस पर एक्शन लेते हुए मुंबई से नैनीताल के बीच सैनिक मंजूरी दे दी। आपको बता दें कि महाराष्ट्र के मौजूदा राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी भी नैनीताल से सांसद रह चुके हैं।सांसद कोश्यारी ने 2013 से वह टिवट्र इस्तेमाल कर रहे हैं, लेकिन सक्रियता कुछ वर्षों में अधिक रही।

उनके टिवट्र पर 63 हजार फॉलोअर हैं। वह 181  लोगों को फॉलो करते हैं। हालांकि उनके टवीट पर कमेंट करने वालों की संख्या बेहद कम है। हां, फेसबुक पर यह संख्या अधिक नजर आती है

संबंधित विषय