एलिफिंस्टन रेलवे हादसा : मरे के 6 और परे के 4 रेलवे स्टेशनों के पुल और ब्रिज का हुआ ऑडिट

 Diva
एलिफिंस्टन रेलवे हादसा : मरे के 6 और परे के 4 रेलवे स्टेशनों के पुल और ब्रिज का हुआ ऑडिट

एलिफिंस्टन रेलवे स्टेशन के ब्रिज पर भगदड़ से 23 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी इसके बाद रेलवे प्रशासन होश में आया है। रेलवे मंत्री पियूष गोयल ने तत्काल बैठक कर मुंबई के 122 रेलवे स्टेशन के पब्लिक ब्रिज और पुलों का ऑडिट करने का निर्णय लिया है. यह ऑडिट मंगलवार से शुरू होगा।

परे और मरे के पुलों का हुआ ऑडिट

मंगलवार को परे के चार और मध्य रेलवे के 6 स्टेशनों के पुलों का ऑडिट किया गया। इनमें मध्य रेलवे के करी रोड, ठाणे, कलवा, ठाकुर्ली और दिवा स्टेशन शामिल हैं, जबकि पश्चिम रेलवे के 4 यानी विरार, नालासोपारा, वसई रोड, नायगांव रेलवे स्टेशन के पुलों का ऑडिट किया गया।

कौन कौन शामिल थे?

दिवा स्टेशन से इस ऑडिट की शुरुआत हुयी। इसमें रेलवे के विविध भागों के अधिकारी सहित मनपा के अधिकारी,जीआरपी, आरपीएफ आदि विभाग के अधिकारी भी शामिल थे। साथ ही रेलवे के इंजीनियरिंग और वाणिज्य विभाग के अधिकारी भी शमील हुए थे।

कई चीजों का लिया जायजा

इन अधिकारियों ने अपने निरिक्षण में स्टेशनों की स्थिति, पब्लिक ब्रिज, यात्रियों की लगने वाली भीड़, स्काईवाक की उपयोगिता, प्रवेश द्वार की स्थिति, स्टेशनों को जोड़ने वाले रस्ते सहित कई चीजों का भी जायजा लिया।

एक हफ्ते में पेश होगा रिपोर्ट

इस ऑडिट में पश्चिम रेलवे के 5 तो मध्य रेलवे के 8 टीम शामिल थी जो अपना रिपोर्ट 5 से 6 दिनों में रेलवे मंत्रालय को सौपेंगे।

यही नहीं एलिफिंस्टन रलवे स्टेशन का हादसा फिर न हो इसके लिए भविष्य में उपाय योजना लागु करने के लिए राज्य मंत्री मंडल उप समिति का गठन करने का निर्णय मंत्रिमंडल की बैठक में लिया गया।

बता दें कि मध्य रेलवे के 75 व पश्चिम रेलवे के 47 रेलवे ब्रिजों का ऑडिट किया जाना है। प्रशासन ने ब्रिजों का ऑडिट करने के लिए कुल 13 समितियां बनाई हैं।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दें) 

Loading Comments