मुंबई से दिल्ली का सफर अब और एक घंटे होगा कम, राजधानी एक्सप्रेस की स्पीड बढ़ाने की मिली मंजूरी

रेलवे बोर्ड की ओर से इस राजधानी एक्सप्रेस की स्पीड बढ़ाने की सैद्धांतिक मंजूरी मिल गई है

SHARE

मुंबई और दिल्ली के बीच मौजूदा समय में राजधानी एक्सप्रेस सबसे तेज गाड़ी है।  लगभग 15 घंटो के आसपास  राजधानी आपको मुंबई से दिल्ली पहुंचा देती है। लेकिन अब ये समय और भी कम हो सकता है।   राजधानी एक्सप्रेस की स्पीड को बढ़ाने की सैद्धांतिक मंजूरी रेलवे बोर्ड की ओर से मिल चुकी है।  इस मंजूरी के बाद अब राजधानी की स्पीड और भी बढ़ सकती है। राजाधानी की स्पीड को बढाने के बाद मुंबई से दिल्ली के लिए लगनेवाले समय में एक घंटे की कमी आ सकती है।  

मुंबई से दिल्ली तक राजधानी एक्सप्रेस को 130 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चलाने की मंजूरी मिल चुकी है। देरी बस उत्तर मध्य रेलवे की ओर से हो रही है। यहां के मथुरा-पलवल सेक्शन में ट्रेनों की आवाजाही बहुत ज्यादा है। ऐसे में समय का तालमेल बैठाकर राजधानी एक्सप्रेस को इस सेक्शन में 130 की स्पीड से गुजारा जाएगा।बांद्रा से दिल्ली के बीच चलाई गई विशेष राजधानी एक्सप्रेस के 18 डिब्बे ट्रेन के आगे और पीछे इंजन जोड़कर ट्रायल किया गया। 


इस ट्रायल में ट्रेन ने बांद्रा से वडोदरा तक 23 मिनट बचाए। ट्रेन को 130 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से चलाया गया  था।   दूसरे चरण में इसे वडोदरा से कोटा तक ट्रेन को 130 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से ले जाया गया और तीसरे चरण में कोटा से दिल्ली तक ट्रेन को 160 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से ले जाया गया। कुल मिलकार इस ट्रेन से यात्रियों का लगभग एक घंटे का समय बचेगा।  आरडीएसओ ने बताया कि 6 नवंबर को बोर्ड ने इस प्रोजेक्ट को सैद्धांतिक मंजूरी दे दी थी। इसके बाद पश्चिम रेलवे को आरडीएसओ की ओर से 8 नवंबर को चिट्ठी मिली, जिसमें लोकोमोटिव (इंजिन) और कोच में बदलाव के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़े- 4 स्टेशनों पर क्विक रिस्पॉन्स टीम तैनात करेगी मध्य रेलवे

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें

मुंबई से दिल्ली का सफर अब और एक घंटे होगा कम, राजधानी एक्सप्रेस की स्पीड बढ़ाने की मिली मंजूरी
00:00
00:00