SHARE

जैसा कि कहा जाता है, सफलता के साथ बड़ी जिम्मेदारियां आती हैं। एक ऐसी स्थिति है, जिसे कार्तिक आर्यन अपने करियर की सबसे बड़ी बॉक्स ऑफिस ओपनिंग फिल्म 'पति पत्नी और वो' के बाद आज खुद में ला रहे हैं, और उनसे यह अच्छी उम्मीद की जा सकती है। सिर्फ बीस महीनों की अवधि में, कार्तिक ने अपनी तीसरी फिल्म की एक बड़ी शुरुआत को सुनिश्चित कर लिया है, इस तरह से वे खुद को बॉक्स-ऑफिस का नया प्रिन्स के तौर पर स्थापित हो रहे हैं।

कार्तिक की इस जर्नी के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि उन्होंने प्यार का 'पंचनामा' सीरीज के बाद बनाई गई छवि से सफलतापूर्वक बाहर आने में सफल हुए हैं, जबकि उन्हें की दोनों किस्तों में बड़ी सफलता मिली, 'सोनू के टीटू की स्वीटी' (2018) के रिलीज़ होने पर बदलाव आना शुरू हो गया। युवाओं  के साथ बच्चो में भी अपनी खास जगह बनायी है। 

फिल्म 'लुका छुपी' से कार्तिक हर घर परिवार में एक जगह बनाई वे फिल्म अपने करियर की अबतक की सबसे बड़ी ओपनिंग लेने वाली फिल्म थी। यह फिल्म साल की शुरुआती सफलताओं में से एक के रूप में उभरी और कार्तिक के करियर के लिए  मैजिक जैसा रहा और अब जिस तरह 'पति पत्नी और वो' बॉक्स ऑफिस पर कमाल कर रही है यह बहुत ही उल्लेखनीय है। फिल्म ने साल की सबसे बड़ी ओपनिंग में से एक है और वह भी एक और बड़ी फिल्म के साथ क्लैश होने के बावजूद पर, कार्तिक अपना जलवा बरक़रार रखने में कामयाब हुए है।

ट्रेड विशेषज्ञ तरन आदर्श ने भी अभिनेता के बारे में प्रशंसा करते हुए कहा हैं, 1 दिन में 90 लाख से 9 करोड़ तक, 3.25 करोड़ से 35-36 करोड़ के शुरुआती सप्ताहांत में, 'प्यार का पंचनामा' से लेकर 'पति पत्नी और वो' तक रहा है।  2019 कार्तिक के लिए 'लुका छुपी' के साथ शुरू हुआ और पति पत्नी और वो दोनों सुपर हिट फिल्मों  साथ समाप्त हो रहा है। अच्छी बात यह है कि कार्तिक ऐसी फिल्मों में काम कर रहे हैं, जो न केवल युवा लोगों को बल्कि परिवार के दर्शकों को भी पसंद आती हैं, इसलिए उनका प्रशंसक आधारित युवा लड़कियों या किशोर भीड़ तक सीमित नहीं है। उनकी सफलता का यह तथ्य है कि उन्होंने इसे किसी भी स्टार गॉडफादर या एक स्टार निर्माता के बिना अपना यह मुकाम बनाया है। यह विशुद्ध रूप से उनकी योग्यता, ताकत और अपने फैसलों पर है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें