इरफान खान ने कहा - जी करता है बोर्ड टांग लूं कि मैं मरनेवाला हूं

एक्टर इरफान खान ने कहा, कभी सोचता हूं इन सभी बातों को भुला कर फिर से जीने लगूं। जिंदगी मुझे फिर से जीने का मौका दे रही है, मुझे लग रहा है कि मेरे चारों तरफ अंधेरा है, मैं देख नहीं पा रहा हूं मुझे जिंदगी क्‍या दे रही है।

SHARE

इरफान खान स्टारर फिल्म ‘कारवां’ आज जहां सिनेमाघरों में रिलीज हुई है। वहीं इरफान खान की मनोदशा की एक ऐसी खबर सामने आई है, जिसे सुनकर आपकी आंखें भी नम हो उठेंगी। इरफान इस समय कैंसर से जूझ रहे हैं, उन्हें न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर की समस्या है और इन दिनों उनका इलाज लंदन के अस्पताल में चल रहा है। अब इरफान का एक इंटरव्यू सामने आया है जो हैरान करने वाला है।

इरफान खान ने एसोसिएटेड प्रेस को दिये एक इंटरव्यू में कहा, यह जिस तरह का कैंसर है उसमें कीमोथेरेपी के 6 सेशन होते हैं। कीमो के 6 सेशन में 4 पूरे हो चुके हैं। चौथे सेशन के बाद स्‍केन में अच्‍छे संकेत मिले हैं। मेरा टेस्‍ट पॉजिटिव रहा है। अब बाकी के दो सेशन और होने हैं। जब ये सभी 6 सेशन पूरे हो जायेंगे इसके बाद एक बार फिर से कैंसर स्‍कैन होगा। इसके बाद मालूम चलेगा कि क्‍या होता है।  इरफान ने यह भी कहा कि, इस दुनिया में किसी इंसान की जिंदगी की कोई गारंटी नहीं है।

इरफान ने आगे भावुक होते हुए कहा, इनदिनों कई बार ऐसा जी करता है कि अपने गले में एक बोर्ड टांग लूं और उस पर लिखा होगा, मुझे बीमारी है और मैं कुछ दिन में मरनेवाला हूं। मेरे दिमाग में हमेशा चलता रहता है कि मैं कुछ दिन, महीने या फिर साल में मैं मरनेवाला हूं।

एक्टर ने आगे कहा कि कभी सोचता हूं इन सभी बातों को भुला कर फिर से जीने लगूं। जिंदगी मुझे फिर से जीने का मौका दे रही है, मुझे लग रहा है कि मेरे चारों तरफ अंधेरा है, मैं देख नहीं पा रहा हूं मुझे जिंदगी क्‍या दे रही है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें