एक्टर डिनो मोरिया और डीजे अकील पर लगा धोखाधड़ी का आरोप, ED ने भेजा समन

सीबीआई की एफआईआर के अनुसार संदेसरा बंधुओं की कंपनी स्टर्लिंग बायोटेक ने आंध्रा बैंक की अगुवाई वाले बैंकों के संघ से 5000 करोड़ रुपये ऋण लिए थे, जिन्हें चुकाया नहीं गया और बाद में इसे एनपीए में दल दिया गया।

SHARE

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने धोखाधड़ी के आरोप में एक्टर डिनो मोरिया और डीजे अकील को समन जारी किया है। बताया जाता है कि स्टर्लिंग बायोटेक कंपनी के मालिक संदेसरा ब्रदर्स ने फर्जी कंपनियां बनाकर बैंकों को हजारों करोड़ रुपये का चूना लगाया है। यही नहीं मामला पंजाब नेशनल बैंक (PNB) स्कैम से भी बड़ा बताया जा रहा हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक स्टर्लिंग बायोटेक लिमिटेड के प्रमोटर नितिन संदेसरा, चेतन संदेेसरा और दीप्ति संदेसरा ने बैंकों को करीब साढ़े 14 हजार करोड़ का चूना लगाया है। जब मामले का खुलासा हुआ तो ईडी ने अपनी जांच में पाया कि कंपनी द्नेवारा किये गये इन घोटालों में से डिनो मोरिया और डीजे अकील को भी कुछ पैसा दिए गये थे।

अधिकारियों ने भी सोमवार को मीडिया से बात करते हुए बताया कि इन दोनों को ईडी के समक्ष बयान देने को कहा गया । उन्होंने आगे बताया कि उनसे इन भुगतान के संबंध में पूछताछ की जाएगी और उनके बयान धनशोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के तहत दर्ज किए जाएंगे। 

आपको बता दें कि ईडी ने फरार चल रहे संदेसरा ब्रदर्स के खिलाफ लुकआउट नोटिस भी जारी किया हुआ था। सीबीआई की एफआईआर के अनुसार संदेसरा बंधुओं की कंपनी स्टर्लिंग बायोटेक ने आंध्रा बैंक की अगुवाई वाले बैंकों के संघ से 5000 करोड़ रुपये ऋण लिए थे, जिन्हें चुकाया नहीं गया और बाद में इसे एनपीए में दल दिया गया।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें