Advertisement

केमिस्ट वालों की चालाकी


केमिस्ट वालों की चालाकी
SHARES

परेल - 500 और 1000 रुपए के पुराने नोट बंद होने के बाद से मरीजों को खुल्ला पैसों के आभाव में भारी परेशानियां उठानी पड़ रही हैं।
मरीजों को 24 घंटे सेवा देने वाला परेल का नेशनल, न्यु स्वस्तिक और दि परेल ये केमिस्ट की दुकाने बुधवार को बंद रही। जिसकी वजह से मरीजों को दवाइयां नहीं मिल पा रही थी। इससे तंग आकर मरीजों के परिवार वालों ने दुकानदारों पर हल्लाबोल किया। मामले की गंभीरता को भांपते हुए पुलिस ने इस पर कमान कसी। 

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
Advertisement