भारत को झटका, फिच ने घटाया GDP ग्रोथ रेट


SHARE

विश्व की बड़ी ग्लोबल रेटिंग एजेंसी कंपनियों में से एक 'फिच' ने भारत को झटका दिया है। फिच ने चालू वित्त वर्ष के लिए भारत की आर्थिक विकास दर का अनुमान घटाकर 6.7 फीसद कर दिया है। फिच के अनुसार भारत की अर्थव्यवस्था में हाल की तिमाही में उम्मीद के मुताबिक़ ग्रोथ नहीं हुआ।

विकास दर को घटाया

अभी हाल ही में मूडीज ने भारत को अच्छी रेटिंग दी थी, लेकिन फिच ने भारत की खुशियों पर पानी फेरते हुए अपने ग्लोबल इकोनॉमिक आउटलुक (जीईओ) में अगले वित्त वर्ष के लिए भी देश की विकास दर के अनुमान को घटा दिया है. फिच ने भारत के विकास को 7.4 से घटा कर 7.3 फीसद कर दिया है।

नोटबंदी और जीएसटी से नुकसान

हालांकि सरकार की ओर से लगातार उठाए जा रहे आर्थिक सुधार के कदमों के चलते अगले दो वर्षो विकास दर में तेजी का अनुमान जताया गया है। फिच के अनुसार भारत की आर्थिक विकास जुलाई-सितंबर तिमाही के दौरान 6.3 फीसद रही। यह पिछली तिमाही में तीन साल के सबसे निचले स्तर 5.7 फीसद तक आ गई थी। इसीलिए विकास दर में सुधार उम्मीद से कम है। फिच ने भारत की गिरती ग्रोथ का कारण नोटबंदी और वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) को बताया।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें