18 फरवरी से मैग्नेटिक महाराष्ट्र की शुरुआत, 10 लाख करोड़ के निवेश की उम्मीद

इस समिट में 4000 से ज्यादा कंपनियां शामिल होंगी। समिट में फ्यूचर इंडस्ट्री और इलेक्ट्रिक गाड़ियां, रिन्यूबल एनर्जी सेक्टर पर फोकस रहेगा ।

SHARE

राज्य में विदेशी निवेश को बढ़ावा देने के लिए महाराष्ट्र सरकार की ओर से मुंबई में ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट, मैग्नेटिक महाराष्ट्र का आयोजन किया जा रहा है।   18 फरवरी से होने वाले समिट से सरकार को 10 लाख करोड़ रूपये के निवेश की उम्मीद है।  एमआईडी की ओर से इस आयोजन की तैयारियां की जा रही है।  राज्य सरकार को उम्मीद है की इस समिट से राज्य में देशी और विदेशी  कुल मिलाकर 10 लाख करोड़ रुपये के निवेश की संभावना है।  


कैसा वकील चाहिए बीएमसी को? 470 अर्जियों में से एक का ही सेलेक्शन


इस समिट में 4000 से ज्यादा कंपनियां शामिल होंगी। समिट में फ्यूचर इंडस्ट्री और इलेक्ट्रिक गाड़ियां, रिन्यूबल एनर्जी सेक्टर पर फोकस रहेगा।डिफेन्स, एयरोस्पेस पर महाराष्ट्र में बहुत संभावनाएं है। कई विदेशी कंपनियों मैग्नेटिक महाराष्ट्र में शामिल होंगी। अमेरिका, यूके, जापान, कोरिया चीन के कारोबारी जुटेंगे। 


मानखुर्द - मंडल में 63 भंगार के गोदामों पर कार्रवाई !



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शीर्ष व्यापार प्रमुखों व मुख्य कार्यकारी अधिकारियों से तीन दिवसीय 'मैग्नेटिक महाराष्ट्र : कनवर्जेस 2018' के दौरान बातचीत करेंगे।बांद्रा कुर्ला के एमएमआरडी ग्राउंड पर पहली बार हो रहे ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के उद्घाटन के बाद मोदी कंपनियों के प्रमुखो  से चाय पर बातचीत करेंगे।


एक और बॉलीवुड हस्ती के स्टूडियो पर बीएमसी ने चलाया बुलडोजर



18 से 20 फरवरी के दौरान बांद्रा-कुर्ला काम्प्लेक्स (बीकेसी) में आयोजित निवेश शिखर सम्मेलन में विभिन्न देशी-विदेशी कंपनियों के साथ 4500 करार होने की उम्मीद है। इससे 35 लाख नए रोजगार पैदा हो सकेंगे।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें