बीएसएनएल के 77,000 से ज्यादा कर्मचारियों ने वीआरएस का विकल्प चुना

मुताबिक बीएसएनएल के कुल डेढ लाख कर्मचारियों में से करीब एक लाख कर्मचारी वीआरएस लेने के पात्र हैं।

SHARE

सरकारी दूरसंचार कंपनी  भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) के 77,000 से ज्यादा कर्मचारियों ने अब तक स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (वीआरएस) का विकल्प चुना है। मिली जानकारी के मुताबिक बीएसएनएल के कुल डेढ लाख कर्मचारियों में से करीब एक लाख कर्मचारी वीआरएस लेने के पात्र हैं। स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना की प्रभावी तारीख 31 जनवरी 2020 है।

 बीएसएनएल के एक अधिकारी ने पीटीआई - भाषा को बताया कि अब तक वीआरएस चुनने वाले कर्मचारियों की संख्या 77,000 के पार जा चुकी है। हाल ही में ' बीएसएनएल स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना -2019' पेश की गई है और यह तीन दिसंबर तक खुली रहेगी. बीएसएनएल को उम्मीद है कि यदि 70,000 से 80,000 कर्मचारी वीआरएस योजना को अपनाएंगे तो इससे वेतन मद में करीब 7,000 करोड़ रुपये की बचत होगी।

 क्या है योजना 

योजना के मुताबिक , 50 साल या इससे ज्यादा उम्र के कर्मचारी इसके दायरे में हैं।  एमटीएनएल भी वीआरएस योजना लायी है. कर्मचारियों के लिये यह योजना भी तीन दिसंबर तक खुली है। पिछले महीने केंद्रीय मंत्रिमंडल ने एमटीएनएल को बीएसएनल में मिलाने की योजना को मंजूरी दी थी।

यह भी पढ़े- टिक टॉक पर प्रतिबंध लगाने की मांग को लेकर जनहित याचिका

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें