RBI गर्वनर उर्जित पटेल ने अपने पद से दिया इस्तीफा


SHARE

आखिरकार केंद्र सरकार से मतभेद के चलते रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) के गवर्नर उर्जित पटेल ने इस्तीफा दे ही दिया, हालांकि पटेल ने इस इस्तीफे की वजह व्यक्तिगत कारणों को बताया है। गौरतलब है कि उर्जित पटेल का कार्यकाल 9 महीने बाद यानी अगले साल सितंबर 2019 में खत्म होने वाला था। 

आपको बता दें कि रिजर्व बैंक की स्वायत्तता पर केंद्र सरकार के कथित हस्तक्षेप और अन्य मुद्दों को लेकर उर्जित पटेल और सरकार के बीच मतभेद की खबरें लगातार आ रही थीं। उसके बाद से ही पटेल के इस्तीफा देने की अटकलें जोर पकड़ने लगी थीं। 

इस इस्तीफे के बारे में उर्जित पटेल ने कहा कि, 'व्यक्तिगत कारणों के कारण तत्काल प्रभाव से मैंने यह पद छोड़ने का निर्णय किया है। यह मेरे लिए सम्मान की बात है कि मुझे रिजर्व बैंक में कई जिम्मेदारियों के साथ काम करने का मौका मिला।' आरबीआई को शुभकामनाएं देते हुए उन्होंने आगे लिखा कि 'आरबीआई के स्टाफ, अधिकारियों और मैनेजमेंट के समर्थन और कड़ी मेहनत से बैंक ने हाल के वर्षों में कई उपलब्धियां हासिल की हैं। इसके लिए मैं सभी को भविष्य की शुभकामनाएं देता हूं।'

पिछले साल ही बने थे गवर्नर 
उर्जित पटेल साल 2016 में 4 सितंबर को रिजर्व बैंक के गवर्नर नियुक्त किये गए थे। वे आरबीआई के 24वें गवर्नर के रूप में नियुक्त किए गए थे। इससे पहले वह रिजर्व बैंक में ही डेप्युटी गवर्नर के पद पर थे।

संबंधित विषय