स्टाम्प शुल्क और पंजीकरण विभाग को फटका

 Pali Hill
स्टाम्प शुल्क और पंजीकरण विभाग को फटका

मुंबई – मुंबई समेत राज्य की महानगरपालिका, नगरपालिका, नगरपरिषद, म्हाडा, बेस्ट, एसटी सभी के सरकारी खजाने में भारी बढोत्तरी हुई है। जबकि स्टाम्प शुल्क और पंजीकरण विभाग को नोट बंदी का बड़ा फटका लगा है। सिर्फ एक सप्ताह में मुंबई समेत राज्य के स्टाम्प शुल्क और पंजीकरण विभाग के कोष में 40 फीसदी की कमी आई है। यह जानकारी पंजीकरण महानिरीक्षक व स्टाम्प नियंत्रक एन. रामास्वामी ने मुंबई लाइव को दी है। हर दिन 6000 दस्तावेजों का पंजीकरण होता था पर बीते एक सप्ताह में यह आंकड़ा गिरकर 3500 हो गया है। स्टाम्प शुल्क और पंजीकरण शुल्क ऑनलाईन पद्धति से स्वीकार की जाती है। प्रति दस्तावेज के हिसाब से 20 रुप डीडीद्वारा स्वीकारे जाते हैं।

Loading Comments