Advertisement

मुंबइ में भी दिखी भीमा कोरेगांव हिंसा की आग।


मुंबइ में भी दिखी भीमा कोरेगांव हिंसा की आग।
SHARES



8:05pm - बुधवार को खुले रहेंगे स्कूल और कॉलेज, सभी कामकाज होंगे नियमित समय पर 

7.30pm- वेस्टर्न और सेंट्रल लाइन की लोकल समय पर, हार्बर देरी से

6.24pm - भीम कोरेगांव हिंसा में राहुल गांधी ने किया ट्वीट 

6pm – मंत्रालय में घोषणाबाजी करते हुए राष्ट्रवादी युवक कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को पुलिस ने लिया गिरफ्त में

5.45pm – मंत्रालय में मुख्यमंत्री कार्यालय के बाहर मुख्यमंत्री के खिलाफ घोषणाबाजी

5.40pm – मुंबई में घटी विभिन्न घटनाओं में लगभग 100 लोगों की गिरफ्तारी - मुंबई पीआरओ

5.30pm – मुंबई में घट रही घटनाओं को देखते हुए अनेक प्राइवेट कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को घर जाने की अनुमति दी

5.12pm - हार्बर लाईन पर धीरे धीरे धीरे ट्रैक पर आ रही

5pm - भीमा-कोरेगाव प्रकरण में मुख्यमंत्री ने लिया न्यायालयीन जांच निर्णय, साथ ही युवकों की मृत्यू की सीआयडी जांच करेगी। मृताकों के घरवालों को 10 लाख की मदत

4.30pm - हिंदू एकता मंच के प्रमुख संभाजी भिडे गुरुजी और मिलिंद एकबोटे के विरोध में पुणे के पिंपरी पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज

4pm - 20 बेस्ट और 134 एसटी बस की तोड़फोड़

3.35pm - भीमा-कोरेगांव मामले में प्रकाश आंबेडकरांनी ने बुधवार को महाराष्ट्र बंद की अपाल की

नए साल के मौके पर पुणे में हुई हिंसा की आग अब मुंबई में भी पहुंच गयी है। मुंबई के चेंबूर, घाटकोपर, मुलुंड, गोवंडी, सायन सहित अन्य इलाकों में भी हिंसा फैलने से तनाव का माहौल बना रहा। अनेक इलाकों में पत्थरबाजी की घटना से कई दुकानें बंद रहीं। यही नहीं चेंबूर रेलवे स्टेशन पर दलित समुदाय की तरफ से कई रेल रोको आंदोलन किया गया। इस दौरान मुंख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने लोगों से शांति की अपील की है।

Maharashtra CM@Dev_Fadnavis orders judicial enquiry for #BhimaKoregaon incident.
Also orders a CID enquiry for the death of a youth & an assistance of ₹10 lakh to his kin.
Strict action will be taken against the all those who are spreading rumours & trying to invoke violence. pic.twitter.com/TvMVVgSWRV

— CMO Maharashtra (@CMOMaharashtra) January 2, 2018 ">


मुख्यमंत्री ने दिया जांच का आदेश  

हिंसा की घटना से किसी भी संभावित खतरे को देखते हुए एहतियातन तौर पर कई इलाकों में भारी मात्रा में पुलिस बल की तैनाती की गयी। कई इलाकों में हुए हिंसा की घटना के मद्देनजर मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मंगलवार को न्यायिक जांच का आदेश दिया। साथ ही इस घटना में मारे गए युवक के परिजन को 10 लाख रुपए की मदद का भी घोषणा की। यही नहीं मुख्यमंत्री ने सोशल मीडिया पर फ़ैल रहे किसी भी प्रकार की अफवाहों पर ध्यान ने देने की भी अपील की।


क्या है मामला?

बता दें कि 1 जनवरी 1818 में कोरेगांव भीमा की लड़ाई में पेशवा बाजीराव द्वितीय पर अंग्रेजों ने जीत दर्ज की थी। अंग्रेजों ने कोरेगांव भीमा में अपनी जीत के स्मरण में विजय स्तंभ का निर्माण कराया था। बाद में यह दलितों का प्रतीक बन गया। हर साल हजारों की संख्या में दलित समुदाय के लोग यहां आकर श्रद्धांजलि देते हैं।

जब इस बार भी नए साल के मौके पर सैकड़ों की संख्या में दलित समुदाय द्वारा शौर्य दिवस मनाने के लिए लोग विजय स्तम्भ की तरफ जा रहे थे तभी कार्यक्रम वाली जगह पर जब कुछ लोग भगवा और तिरंगा लेकर पहुंचे गए तो वहां विवाद शुरू हो गया। इस विवाद ने हिंसा का रूप धारण कर लिया। हिंसा से आगजनी, पत्थरबाजी की भी घटना हुयी जिसमें एक युवक की मौत हो गयी।


इस घटना की कई राजनीतिक पार्टियों ने निंदा जताई है। मुंबई के अनेक इलाकों में भी इसक असर देखने को मिला, कई जगह पत्थरबाजी हुयी और लोग रास्ते पर उतरे, कई जगह दुकाने बंद हो गयी। इस सबका परिणाम रहा कि ईस्टर्न एक्सप्रेस हाईवे पर भारी मात्रा में ट्रैफीक जाम लगा रहा।

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय