जलशुद्धी के लिए होगा सौरउर्जा का इस्तेमाल

 Bhandup
जलशुद्धी के लिए होगा सौरउर्जा का इस्तेमाल

भांडुप के सौरउर्जा प्रकल्प के  बढ़ते खर्च को देखते हुए बीएमसी ने सौरउर्जा से बिजली पैदा करने का निर्णय लिया है। इसके लिए बीएमसी भांडुप कॉम्पलैक्स इलाके में 12.5 मेगावॅट क्षमता का सौरऊर्जा प्रकल्प स्थापित करेगी। इस कार्य के लिए 8 करोड़ 22 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे। इस जलशुद्धी केंद्र में हर रोज 2,300 दस लाख लीटर पानी शुद्ध किया जाता है। 

यह भी पढ़े- 'इमारत को ओसी नहीं तो बिजली और पानी भी नहीं'

जिसके लिए साल में 5 करोड़ 4 लाख युनिट बिजली खर्च होती है। इस बिजली खर्च को कम करने के लिए आईआईटी मुंबई की ओर से 12.5 मेगावॅट क्षमता का सौरऊर्जा प्रकल्प तैयार किया जाएगा। 26 हजार स्क्वायर फुट पर इस प्रकल्प को तैयार किा जाएगा।

यह भी पढ़े- तो कट जाएगी इन 170 इमारतों में पानी की सप्लाई...

इस प्रकल्प से हर साल 3 करोड़ की बचत की जाएगी।


(मुंबई लाईव ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें)


Loading Comments