अंधेरी स्पोर्ट्स क्लब को बीएमसी ने बनाया अस्थाई शेल्टर होम

बीएमसी ने कोरोना वायरस प्रभावित इलाकों की जीआईएस मैपिंग शुरू कर दी है।

अंधेरी स्पोर्ट्स क्लब को बीएमसी ने बनाया अस्थाई शेल्टर होम
SHARES

बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने शहर में फंसे प्रवासी और दैनिक वेतन भोगी श्रमिकों के लिए अस्थायी रनिंग कॉम्प्लेक्स को अस्थायी आश्रय घरों में बदल दिया है।  शहर में निर्माण स्थलों पर अधिकांश मजदूर दिहाड़ी मजदूर हैं। 21 दिन की तालाबंदी की अचानक घोषणा के बीच परियोजनाएं ठप हो गईं, उनमें से अधिकांश अपने गृहनगर वापस आ गए हैं।  उन्हें छोड़ने से रोकने के लिए, नागरिक निकाय ने अस्थायी आश्रय सुविधाओं की स्थापना की है।




उपनगरीय इलाके में आज़ाद नगर मेट्रो स्टेशन के बगल में स्थित शहरजी शाहे राजे (अंधेरी) खेल परिसर को शहर में रहने वाले दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों का अस्थायी आश्रय स्थल बनाया गया है।महाराष्ट्र में संक्रमितों की कुल संख्या 319 हो गई है। राज्य में अब तक संक्रमण से 12 लोगों की मौत हुई है,संक्रमण के कई माले मुंबई के कोलावडी इलाके में मिले हैं, जिसे अब सील कर दिया गया है। इसके साथ ही मुंबई के भी कई ऐसे इलाके है जिन्हें पूरी तरह से सील कर दिया गया है। विशेषज्ञों को मुंबई में कम्युनिटी ट्रांसमिशन का खतरा नजर आ रहा है। मुंबई में मिले मामलों में अधिकांश कीट्रैवल हिस्ट्री नहीं है।



बीएमसी ने शहर में कोरोना वायरस प्रभावित इलाकों की जीआईएस मैपिंग शुरू कर दी है। संक्रमण की निगरानी के लिए ‘वॉर रूम’ भी बनाया है। बीएमसी के आयुक्त प्रवीण परदेसी ने बताया कि जिन इलाकों में कोरोना संक्रमण के मामले ज्यादा हैं,उनकी जीपीएस मैपिंग करके बीएमसी की वेबसाइट पर अपलोड की जाएगी, ताकि शहर के लोगों को इसकी जानकारी मिल पाए और वह उन इलाकों में जाने से बचे। उन्होंने कहा कि इससे संक्रमण वाले इलाकों में रहने वालेनिवासी सतर्क रहकर ज्यादा एहतियात बरत सकेंगे। वहीं, उद्धव ठाकरे ने दो वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों अश्विनी भिंडे और डॉ. रामास्वामी एन को प्रतिनियुक्ति पर बीएमसी भेजा है ताकि मुंबई में संक्रमण की चेन को रोका जा सके।



संबंधित विषय