डी वॉर्ड में बीएमसी कर्मचारियों का काम बंद आंदेलन शुरु

बायोमेट्रिक उपस्थिति में तकनीकी खामियों के कारण बीएमसी के विभिन्न विभागों के जूनियर कर्मचारियों की पगार अभी भी काटी जा रही है।

SHARE

बीएमसी के कर्मचारियों की बायोमेट्रिक उपस्थिति में तकनीकी गड़बड़ी अभी भी जारी है। बायोमेट्रिक उपस्थिति में तकनीकी खामियों के कारण बीएमसी के विभिन्न विभागों के जूनियर कर्मचारियों की पगार अभी भी काटी जा रही है।  जुलाई के अंत के बाद भी, हजारों कर्मचारियों का वेतन नहीं मिलने से कर्मचारियों में भारी नाराजगी बनी हुई है। कर्मचारियों ने  शुक्रवार को ग्रांट रोड पर बीएमसी के 'डी' विभाग में विरोध प्रदर्शन करना शुरु कर दिया है।  

इसके साथ ही समन्वय समिति का कहना है की अगर कर्मचारियों की 20 जुलाई तक वेतन नहीं मिला तो 21 जुलाई से सभी 24 वॉर्डों में काम बंद आंदोलन शुरु किया जाएगा।  बायोमेट्रिक मशीन में गड़बड़ी के कारण कई कर्मचारियों के काम के घंटे को काट दिया गया है। इसके साथ ही कई कर्मचारियों की सैलरी भी काफी कम आई है।  इस खामी के कारण 40 हजार कर्मचारियों की पगार काटी गई।  इनमें से कई कर्मचारी काम पर उपस्थित थे, फिर भी उन्हे 0 सैलरी की सैलरी स्लीप मिली।  


कई लोगों को एक हजार, दो हजार और पांच हजार का वेतन मिला। इसी तरह, कुछ को 81 रुपये तक मासिक वेतन मिला है। इस संबंध में, 'डी' विभाग के कर्मचारियों ने बीएमसी अधिकारियों से मुलाकात भी की।  इसके अलावा, ट्रेड यूनियन संगठन ने चेतावनी दी है कि आयुक्त को वेतन देने के ठोस आश्वासन के बिना आंदोलन नहीं रुकेगा।

संबंधित विषय