आखिर किस बात के लिए नगरसेवको के पास है सिर्फ दो महीनों का समय?

 Mumbai
आखिर किस बात के लिए नगरसेवको के पास है सिर्फ दो महीनों का समय?

मुंबई - मुंबई के विकास के लिए 2014-34 की नियोजन समिति ने डीपी पर चर्चा करने के लिए और अभ्यास करने के लिए दो महिनों की और मुद्दत दी है। इस प्रस्ताव को बीएमसी सभागृह ने मंजूर किया है। अब इस प्रस्ताव को राज्य सरकार के पास भेजा जाएगा।

मुंबई डीपी के लिए लोगों की राय जानने के लिए 6 सदस्यों की एक समिति नियुक्त की गई थी। 6 मार्च को तात्कालिन महापौर स्नेहल आंबेकर को इस समिति ने रिपोर्ट सौपा था। इस रिपोर्ट पर आगामी दो महिने में अभ्यास करना जरुरी है। स्थायी समिती अध्यक्ष रमेश कोरगावकर ने नए नगरसेवको को दो महीनों का अतिरिक्त समय दिया है जिसमें वो इस रिपोर्ट का अध्ययन करेंगे।

कांग्रेस के रावीराजा ने मांग की है की इस समय को तीन महीनों तक के लिए बढ़ाया जाए। लेकिन बीजेपी के गटनेता मनोज कोटक, सपा के गटनेते रईस शेख ने कांग्रेस के इस मांग का विरोध किया। जिसके बाद महापौर विश्वनाथ महाडेश्वर ने ये प्रस्ताव राज्य सरकार के पास भेजा है।

Loading Comments