बीएमसी का 'पानी बचाओ' बजट


SHARE

मुंबई - शहर में जलवाहिनी से होने वाली पानी की बर्बादी को रोकने, पानी के दूषितीकरण, सीमेंट कंक्रिटीकरण और पुरानी व खराब जलवाहिनी को बदलने जैसे कई महत्वपूर्ण कार्य बीएमसी ने अपने हाथ में लिया है। इस कार्य के लिए 30 करोड़ रुपए की मंजूरी दी गई है। इन कार्यों के लिए जनवरी 2015 में दो वर्ष के लिए परिमंडल चार में ठेकदारों की नियुक्ति की गई थी। 31 दिसंबर को उनका कार्यकाल समाप्त होने के बाद नए ठेकेदार की नियुक्ति की जानी है। जिसके तहत जलवाहिनी के तमाम महत्वपूर्ण कार्य किए जाने हैं। इस बारे में पालिका का कहना है कि तमाम कार्यों से अशुद्ध पानी का समस्या और पानी की बर्बादी की समस्या कम होगी।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें