SHARE

बीएमसी सरकारी अस्पतालों में पैदा होने वाले बच्चों को एक जोड़ी कपड़ा, मच्छरदानी और नैपकिन जैसी आदि वस्तुएं भेंट के रूप में देगी। जल्द ही इसे अमलीजामा पहनाया जाएगा। बीएमसी की यह पहल इसीलिए भी अच्छी कही जा रही है कि बीएमसी के अनुसार महिला किसी भी राज्य या प्रांत की रहे अगर वह डिलीवरी के लिए मुंबई के किसी सरकारी अस्पताल में दाखिला लेती है तो वह इस योजना का लाभ उठा सकेगी।

तमिलनाडू की तरह यहां भी लागू हो योजना

बीजेपी की महिला नगरसेवक समिता कांबले ने कहा कि तमिलनाडू की तरह बीएमसी को भी सरकारी अस्पताल में पैदा होने वाले बच्चों को कपड़े, मच्छरदानी, नैपकिन, तेल, साबून, खेलने के लिए खिलौना आदि सामान देना चाहिए।  

बीएमसी ने दिया आश्वासन

समिता कांबले के अनुसार आरोग्य समिति ने उनकी इस मांग पर विचार किया और कहा कि नवजात शिशुओं को तेल और साबून देना मेडिकली ठीक नहीं होगा इसीलिए उन्हें बीएमसी आरोग्य विभाग ने कपडे की जोड़ी, मच्छरदानी और नैपकिन आदि वस्तुए देने पर विचार करने का आश्वासन दिया।

जननी शिशु सुरक्षा की राशि को बढ़ाया जाए

यही नहीं नगरसेवकों ने यह भी मांग की है कि राज्य शासन द्वारा जारी जननी शिशु सुरक्षा योजना के अंतर्गत बीएमसी अस्पतालों में डिलीवरी के लिए आने वाली महिलाओ को 600 रूपये की जगह अब हजार रूपये दिए जाए। इस बारे में बीएमसी प्रसशान ने कहा कि इस बारे में उचित कदम उठाए जा रहे हैं।



संबंधित विषय
ताजा ख़बरें