अस्तित्व को तलाशता रानीबाग

भायखला - मुंबई के इस एकमात्र उद्यान वीर जीजामाता उद्यान को हम रानीबाग के नाम से भी जानते हैं। इसकी अवस्था को देखकर लगता है कि जल्द ही इस उद्यान पर ताला लगा नजर आएगा। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि कुछ दिनों पहले केंद्रीय प्राणीसंग्रहालय प्राधिकरण ने इस उद्यान का निरीक्षण किया था और इसे नोटिस भेजकर दिसंबर तक इसकी हालत सुधारने का आदेश दिया था। मुंबई महानगर पालिका द्वारा 150 करोड़ रुपए खर्च करके इसका रि-डेवलपमेंट किया जाना था। लेकिन आधी रकम खर्च करने के बाद भी इसकी हालत में कोई सुधार दिखाई नहीं पड़ता। मनपा द्वारा दी गई सफाई मशीने धूल खा रही हैं। तमाम पिंजरे खाली पड़े हैं। कई प्राणियों को एक ही जगह पर रखा गया है। पर्यटक यहां पर नियमों की अनदेखी कर धूम्रपान करते देखे जा सकते हैं। कुल मिलाकर कहें तो इस ऐतिहासिक उद्यान की हालत बहुत ही दयनीय है। अगर इसकी हालत में सुधार किया गया तो वो दिन दूर नहीं जब यह उद्यान सिर्फ एक याद बनकर रह जाएगा।

Loading Comments