'सीएम अंकल, सीएम अंकल प्लीज सेव आरे'

“जंगल में घर बनाओगे तो ऱैबिट, लेपर्ड, हिरन कहा जाएंगे? सी एम अंकल, सी एम अंकल, प्लीज सेव आरे” नाम से मैसेज देनेवाले 2.5 साल के बच्चे ने भले ही अभी तक स्कूल ना देखा हो लेकिन आरे के बारे में इस बच्चे ने अभी से ही सारी जानकारी जुटा ली है। पर्यावरण के प्रति इनके प्रेम को देखते हुए अब हर कोई इनके ही बारे में चर्चा कर रहा है।

आरे को बचाने की अपील से जुड़ा एक विडियों इन दिनों सोशल मिडिया पर काफी वायरल हो रहा है। इस वीडियों को लगभग 1 से 1.5 लाख लोगों ने देखा है।

2.5 साल के अर्जुन मेहता के पिता जल्पेश मेहता पर्यावरण प्रेमी है। पिछलें कई सालों से इम्पॉवर फाउंडेशन की ओर से वह पर्यावरण संबंधित क्षेत्र में कार्य कर रहे है। पिछलें 1 साल से वह सेव आरे ग्रुप से जुड़े है। जल्पेश मेहता का कहना है की अगर आरे में पर्यावरण को जरा भी नुकसान पहुंचाया गया तो इससे आनेवाली पिढ़ी को काफी तकलीफों का सामना करना पड़ेगा।

एक मिनट के इस विडियों में छात्रों ने सीएम से अपील की है की वह आरे को बचाए। एक तरफ जहां इस मामले में सीएम से अपील की गई है तो वही तदूसरी तरप एक विडियों बनाकर इस मैसेज को लोगों तक पहुंचाया जा रहा है। साथ ही इस अभियान में केसी कॉलेज और हिंदुजा कॉलेज के 40 छात्रों ने भी हिस्सा लेकर स्ट्रीट प्ले किया।

Loading Comments