Advertisement

राम मंदिर का पोस्टर हटाने पर विवाद

मलाड के मालवणी इलाके में हुआ बवाल

राम मंदिर का पोस्टर हटाने पर विवाद
SHARES

बीजेपी कार्यकर्ताओं ने  (BJP)  आरोप लगाया है की मालवणी  (Malvani) में राम मंदिर (ram mandir) को लेकर भाजपा द्वारा लगाए गए पोस्टर को फाड़ दिया गया।  इस आरोप के बाद, भाजपा ने अब आक्रामक रुख अख्तियार कर लिया है और यहां के भाजपा नेताओ ने 23 जनवरी को मालवणी पुलिस स्टेशन पहुचे और इसका जवाब मांगा।   विधान परिषद में विपक्ष के नेता प्रवीण दरेकर, विधायक अतुल भातखलकर और अन्य बड़े नेता इसमें शामिल हुए। 


आयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए सभी बाधाओं को दूर करने के बाद, विभिन्न समूहों से मंदिर के निर्माण के लिए धन जुटाने के लिए काम चल रहा है।  भाजपा मंदिर निर्माण को लेकर एक जन जागरूकता अभियान चला रही है।  इसके एक हिस्से के रूप में, मलाड के मालवणी इलाके में  एक बैनर लगाया गया था जिसमें राम मंदिर के निर्माण के बारे में बताया गया था।  भाजपा ने आरोप लगाया है कि मालवणी पुलिस ने 15 जनवरी को बैनर हटा दिया।  भाजपा ने यह भी कहा है कि बैनर के टूटने से सैकड़ों हिंदुओं की भावनाएं आहत हुई हैं।


घटना के बाद, भाजपा नेता गणेश खानकर,  मुंबई भाजपा सचिव विनोद शेलार सहित कई कार्यकर्ताओं ने मालवणी पुलिस से इस बारे में जवाब मांगा।   हालांकि बीजेपी नेताओ का कहना है की  पूछताछ के लिए जाने के बाद, पुलिस ने भाजपा नेताओं के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी।


अब विधानसभा में विपक्ष के नेता प्रवीण दरेकर, भाजपा विधायक अतुल भातखलकर, भाजपा विधायक भाई गिरकर, भाजपा विधायक और पूर्व राज्य मंत्री योगेश सागर, भाजपा विधायक सुनील राणे, भाजपा विधायक मनीषा चौधरी  मालवणी पुलिस पहुच गए थे। 

संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें