पानी को लेकर बीएमसी में मचा घमासान

बीएमसी में कांग्रेस नेता विरोधी पक्ष के नेता रवि राजा ने बीएमसी पर आरोप लगाते हुए कहा कि मुंबई के भायखला, कफ परेड, महालक्ष्मी, चर्चगेट सहित मुंबई के उपनगरों में भी पानी के टाइमिंग में कटौती की गयी है साथ ही पानी का प्रेशर भी कम हो गया है। साथ ही अनेक स्थानों पर बीएमसी पानी की अघोषित कटौती भी कर रही है।

SHARE

बीएमसी सभा गृह की बैठक में पानी को लेकर विपक्ष ने बुधवार को जम कर हो हल्ला मचाया। पानी की कटौती और प्रेशर में कमी की बात को लेकर जहां कांग्रेस, एनसीपी और सपा एक थे तो वहीं शिवसेना और बीएमसी अधिकारी इस बारे में सफाई भी दे रहे थे। बावजूद इसके विपक्ष ने सत्ता पक्ष पर अघोषित रूप से पानी कटौती का आरोप लगाया। 


क्या था मामला?

बीएमसी में कांग्रेस नेता विरोधी पक्ष के नेता रवि राजा ने बीएमसी पर आरोप लगाते हुए कहा कि मुंबई के भायखला, कफ परेड, महालक्ष्मी, चर्चगेट सहित मुंबई के उपनगरों में भी पानी के टाइमिंग में कटौती की गयी है साथ ही पानी का प्रेशर भी कम हो गया है। साथ ही अनेक स्थानों पर बीएमसी पानी की अघोषित कटौती भी कर रही है।

विपक्ष के इस आरोप का जवाब देते हुए अतिरिक्त आयुक्त आबासाहेब जन्हाड ने कहा कि पानी की कटौती कही भी नहीं की जा रही है। पहले की तरह से अभी भी पानी की आपूर्ति 3350 MLD प्रतिदिन की जा रही है। 

लेकिन विरोधी पक्ष ने जवाब पर संतुष्ट नहीं हुआ, प्रशासन पर झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए विपक्ष लगातार हो हल्ला मचाता रहा।

मुंबई लाइव से बात करते हुए रवि राजा ने कहा कि पिछले महीने भर से मुंबई के अनेक स्थानों पर बीएमसी द्वारा अघोषित पानी की कटौती कर रही है। इसकी शिकायतें आम लोगों सहित नगरसेवक भी कर चुके हैं, लेकिन इसके बाद भी पालिका मानने को तैयार नहीं है। पालिका लोगों से पानी की कटौती नहीं करने के बारे में झूठ बोल रही है।

रवि राजा ने आगे कहा कि मुंबई में अघोषित पानी की कटौती चल रही है, लोगों को पानी की कमी का सामना करना पड़ रहा है, जबकि शिवसेना ने आंखे फेर रखी है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें