शुक्रवार तक डिस्चार्ज होंगी इमान

 Mumbai
शुक्रवार तक डिस्चार्ज होंगी इमान

इमान की हालत अब स्थिर है, जिसे देखते हुए कि मुफ्फजल लकडावाला ने घोषणा की है कि उन्हें अगले 2 दिनों में छुट्टी दे दी जाएगी। इसके अलावा डॉ. लकडावाला ने कहा कि वह अब खतरे से बाहर हो गई है और बहुत परेशान हो रही है क्योंकि इमान की बहन श्यामा सैलिम ने उन्हें यह कहते हुए दोषी ठहराया था कि इमान की हालत में कोई सुधार नहीं है।
दुनिया की सबसे वजनी महिलाओं में से एक इमान का इलाज करनेवाले डॉ. लकड़ावाला पर इमान की बहन ने गंभीर आरोप लगाए थे। दरअसल सोमवार को सोशल मीडिया पर एक विडियों वायरल हुआ। जिसमें इमान की बहन शाइमा ने डॉक्टर लकड़ावाला पर कई गंभीर आरोप लगाए। शाइमा ने कहा की इमान की हालत और भी खराब होती जा रही है। इमान अहमद की बहन सायमा सेलिम ने आरोप लगाया था कि उनकी बहन का ठीक से इलाज नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि इमान का इलाज कर रहे डॉ. मुफ्फज़ल लकड़ावाला को उनकी तबीयत और सुधार की सही जानकारी नहीं है। सायमा ने कहा कि डॉ. मुफ्फज़ल लकड़ावाला झूठे हैं और इमान की तबीयत के बारे में ठीक से जानकारी नहीं दे रहे हैं। उन्हें बेवकूफ बनाया जा रहा है। इमान अहमद की बहन सायमा सेलिम के आरोप के बाद इमान का उपचार करने वाली टीम से डॉ अपर्णा गोविल भास्कर ने इस्तीफा दे दिया था।

इसके अलावा, डॉक्टरों का मानना है कि उन्हें लगता है कि इमान के परिवार के सदस्य उसके आगे के इलाज की जिम्मेदारी लेने के लिए उत्सुक नहीं हैं और उसे अस्पताल में ही रखना चाहते हैं। डॉक्टरों ने कहा कि अगर वह अपने परिवार के सदस्यों के साथ रहती है तो वह ठीक होने के लिए बेहतर स्थिति में होगी। डॉ लकड़वाला ने उल्लेख किया कि उन्होंने आखिरकार 24 अप्रैल को अपना वजन लिया और रिकॉर्ड किया कि यह 171 किलोग्राम था। उन्होंने यह भी कहा कि वह एक बेरिएट्रिक सर्जन है ना कि न्यूरोसर्जन नहीं है।

Loading Comments