गुटखा विरोध अभियान, अब तक अरबों के गुटखे हुए जब्त

 Mumbai
गुटखा विरोध अभियान, अब तक अरबों के गुटखे हुए जब्त
गुटखा विरोध अभियान, अब तक अरबों के गुटखे हुए जब्त
See all

राज्य में गुटखे पर पूरी तरह से बैन लगने के बाद भी गुटखे बंद नहीं हुआ है। छुपे तौर से मुंबई सहित पूरे राज्य में गुटखे की तस्करी चालू है। इस पर रोक लगाने के लिए एफडीए (फ़ूड एंड ड्रग विभाग) ने और भी कड़े कानून लगाते हए निर्णय लिया था कि गुटखा ले जाने और ले आने वाली गाड़ियों के ड्राइवर पर कार्रवाई तो होती थी साथ ही अब गाडियां भी जब्त की जाएंगी। इस कानून के बाद से एफडीए ने अब तक कुल 41 गाड़ियों को जब्त किया है।

एफडीए के सह आयुक्त चंद्रशेखर सालुंखे ने बताया कि गुटखा, पानमसाला और सुगंधित सुपारी के उत्पादन और बिक्री पर रोक है। इसीलिए अब इसे गुजरात और कर्णाटक जैसे राज्यों से चोरी छुपे लाया जा रहा है। सालुंखे ने आगे बताया कि एफडीए भी गुटखा बिक्री के विरोध में अभियान चलाए हुए है। पिछले साल के अंदर एफडीए ने अपनी इस मुहीम में लगभग 30 करोड़ रुपए के गुटखा जब्त किया है। सालुंखे ने जानकारी देते हुए कहा कि एफडीए ने और भी कड़ाई लागू करते हुए यह आदेश पारित किया कि अब गुटखा तस्करी में पकड़े गये ट्रक, टेम्पो या कोई भी गाड़ी हो उसे भी जब्त किया जाएगा। इस मामले में भी एफडीए ने अब तक राज्य भर में 41 वाहनों को जब्त किया है।

अब तक 106.92 करोड़ के गुटखा जब्त

2012 से सरकार ने राज्य में गुटखे पर प्रतिबंध लगाया। इन पांच वर्षों में राज्य भर में जब्त किए गए गुटखे के आंकड़े काफी चौकाने वाले हैं।इन पांच सालों में अनेक सोर्सों के द्वारा लगभग 106.92 करोड़ के गुटखे पकडे गये हैं। एफडीए के अधिकारीयों की मानें तो महाराष्ट्र के बाहर से आने वाले गुटखे की तस्करी अब रेलवे मार्ग से होती है, इसीलिए हमने इस मामले में रेलवे पुलिस से भी सम्पर्क किया लेकिन बाहर के राज्यों की रेलवे पुलिस की सहायता अभी तक काफी नहीं है।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 










Loading Comments