आरटीआई के जरिए खुला मनपा अधिकारी का झूठ

 Malad
आरटीआई के जरिए खुला मनपा अधिकारी का झूठ

मालाड पी उत्तर विभाग मनपा अधिकारियों का एक सनसनीखेज काला कारनामा उजागर हुआ है। बता दे की मालाड पूर्व में सीओडी के पास सीटीएस न.168 में मुंबई महानगर पालिका का गार्डन आरक्षित है। प्लान में भी यह गार्डन बाकायदा ग्रीन रंग का दर्शाया गया है, उसके अंदर से कोई भी रोड नही है,ऐसी जानकारी एक आरटीआई के जवाब में भी मुंबई महानगर पालिका ने दी है। जिसमे मनपा ने लिखा है कि गार्डन के अंदर से कोई अवैध रोड नही है।

जबकि पी उत्तर वार्ड के मेंटेंश विभाग में कार्यरत अभियन्ता अमित जाधव से जब इस संबंध में बात की गई तो उन्होंने कहा कि गार्डन के अंदर एक्जेक्टिग रोड है और उसको मनपा गार्डन विभाग के खर्च पर बनाया गया है। अब सवाल यह खड़ा हो गया है कि जब सीटीएस न.168 के आरक्षित गार्डन के अंदर से रोड है, तो आरटीआई में क्यों बताया गया कि गार्डन के अंदर से रोड नही है। आखिर सच्चाई क्या है? यह सवाल अब मालाड वासियों के अलावा मुंबई की आम जनता भी जानना चाहती है, क्यों कि एक प्राइवेट बिल्डर के इशारे पर मनपा के आरक्षित गार्डन के अंदर से रोड बनाने का कार्य पी उत्तर विभाग मनपा के कुछ अधिकारियों ने किया है।

आरोप है की इसके बदले में बिल्डर ने उन्हें मोटी रक्कम रिश्वत में दी है। यह मामला काफी गंभीर है इस पर जांच होनी चाहिए और जो भी अधिकारी इसमे दोषी पाए जाते है उनके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्यवाही की जाये।


मनपा के वरिष्ठ अधिकारी आरटीआई के जवाब में सही जानकारी देते हैं की उस गार्डन के अंदर से कोई रोड नही है, लेकिन पी उत्तर वार्ड मेंटनेश विभाग के अधिकारी अमित जाधव का कहना है कि वहाँ पर गार्डन विभाग के खर्चे पर रोड बनाया गया है, लेकिन वह प्लान में नही है, फिर उस रोड को क्यों बनाया गया यह भी सवाल खड़ा हो रहा है, किसके इशारे पर और किसको फायदा पहुचाने के लिए मनपा की तिज़ोरी से लाखों रुपये अवैध रोड बनाने में खर्च किये गए ? क्या स्थानीय जन प्रतिनिधियों को इस भ्रष्टाचार के बारे में अभीतक कोई जानकारी नही है, की मनपा के कुछ इंजीनियर कैसे बिल्डर के लिए गार्डन में सड़क बनवा रहे हैं, जबकि गार्डन के बगल से जो प्लान में बाकायदा रोड है उसके ऊपर पिछले कई सालों से कोई भी मरम्मत कार्य नही किया गया।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दें) 

Loading Comments