मुंबई में अवैध निर्माण कार्य हुए बंद?

 Mumbai
मुंबई में अवैध निर्माण कार्य हुए बंद?

मुंबई में बड़े पैमाने पर अवैध निर्माण कार्य होते हैं। जितनी तेजी से अवैध निर्माण कार्य किया जाता है बीएमसी उतनी तेजी से इन पर कार्रवाई करती नजर नहीं आती। हर दिन हर विभाग में कई अवैध निर्माण कार्य किये जाते हैं, लेकिन बीएमसी की कार्रवाई केवल एक ही अवैध निर्माण कार्य पर हो रहा है, ऐसा हम नहीं बल्कि खुद बीएमसी कह रही है। बीएमसी द्वारा पेश किए गए एक आंकड़े के अनुसार बीएमसी ने इस बार कुल 24 वॉर्ड में से मात्र 29 अवैध निर्माणों को ही तोड़ा है। यानी लम्प्संप हर वॉर्ड में मात्र एक ही अवैध निर्माण हुआ है। 

पिछले वर्ष बीएमसी कमिश्नर अजॉय मेहता के आदेशनुसार 24 वार्डों में करीब 11 हजार अवैध निर्माणों को तोड़ा गया था। बीएमसी के अवैध निर्माण तोड़क दस्ते विभाग के उपायुक्त रणजीत ढाकणे द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार अप्रैल 2016 से अप्रैल 2017 तक यानी एक साल में 11413 अवैध निर्माणकार्यों पर कार्रवाई की गई थी। अगर इसे आंकड़ों की भाषा में पेश किया जाए तो हर दिन 29 अवैध निर्माणों को तोड़ा गया। बीएमसी की इस तोड़क कार्रवाई में 3619 रिहायसी निर्माण, 2506 व्यावसायिक निर्माण और 5288 अस्थायी झोपड़ों और कच्चे स्वरुप के निर्माण में कार्रवाई की थी। 

बीएमसी ने जो आंकडें पेश किए हैं उसके अनुसार अब मुंबई में 24 विभागों में अवैध निर्माण नहीं हो रहे हैं या तो काफी कम हो रहे हैं। सवाल यह भी उठ रहे हैं कि क्या बीएमसी अवैध निर्माणों को संरक्षण दे रही है? या फिर बीएमसी कार्रवाई के नाम पर केवल एक फर्जअदायगी कर रही है? अवैध निर्माण को लेकर बीएमसी जिस तरह से अपनी पीठ थपथपा रही है उससे तो यही लगता है कि बीएमसी लोगों को केवल आंकड़ों के जल में उलझाना चाहती है। यानी हाथी के खाने के दांत कुछ और दिखाने के कुक और।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 



Loading Comments