मुंबई में खुलेगा ज्वेलरी पार्क

इन पार्क में कई सौ ज्वेलरी यूनिट होंगी। ज्वैलर्स की सुविधा के लिए पार्क में कई आधुनिक मशीन लगाई जाएंगी ताकि ज्वेलरी निर्माण की लागत कम हो सके और भारतीय ज्वैलरी अंतरराष्ट्रीय बाजार में प्रतिस्पर्धा कर सके।

SHARE

ज्वेलरी निर्यात को बढ़ावा देने के लिए मुंबई समेत देश के कई शहरों में ज्वेलरी पार्क खोलने की तैयारी है। इन पार्क में कई सौ ज्वेलरी यूनिट होंगी। ज्वैलर्स की सुविधा के लिए पार्क में कई आधुनिक मशीन लगाई जाएंगी ताकि ज्वेलरी निर्माण की लागत कम हो सके और भारतीय ज्वैलरी अंतरराष्ट्रीय बाजार में प्रतिस्पर्धा कर सके। मुंबई के साथ साथ इन तरह की ज्वेलरी पार्क को दिल्ली-एनसीआर एवं बंगलुरू जैसे शहरों में बनाने की योजना है।

जेम्स व ज्वेलरी के निर्यात को 2025 तक 75 अरब डॉलर तक ले जाने का लक्ष्य रखा गया है। ताकि इस क्षेत्र में 25 लाख नई नौकरियों पैदा हो सके। इसके साथ ही। मुंबई में जो पार्क बनाए जाएंगे, वहां 2000 यूनिट लगाने की योजना है।इन पार्क में ज्वेलरी डिजायन से लेकर इसकी शुद्धता जांच एवं अन्य कई प्रकार की आधुनिक मशीन होगी ताकि ज्वेलरी के काम की लागत को कम किया जा सके। ज्वेलरी पार्क के खुलने के बाद निर्यात में 6-8 अरब डॉलर की बढ़ोतरी की उम्मीद की जा रही है।  

चालू वित्त वर्ष 2019-20 में जेम्स व ज्वैलरी निर्यात में 5-7 फीसदी की गिरावट हो सकती है। उन्होंने बताया कि चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही में जेम्स व ज्वेलरी निर्यात में पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि के मुकाबले 7 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। 

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें