केईएम अस्पताल में बायोमीट्रिक हाजिरी सिस्टम से नाराज होकर कर्मचारियों ने किया हड़ताल


  • केईएम अस्पताल में बायोमीट्रिक हाजिरी सिस्टम से नाराज होकर कर्मचारियों ने किया हड़ताल
SHARE

परेल के केईएम अस्पताल में कर्मचारियों ने बुधवार सुबह 7 बजे से लेकर 10 बजे तक सभी काम काज छोड़ कर हड़ताल पर चले गए। ये कर्मचारी अपना वेतन कटने से नाराज थे। आपको बता दें कि अस्पताल में कर्मचारियों की हाजिरी लगाने के लिए बायोमीट्रिक सिस्टम किया गया है। जो कर्मचारी अस्पताल नहीं आए थे, इस बार उनके वेतन में कटौती कर ली गयी। तीन घंटे तक चली हड़ताल से अस्तपाल के सभी मरीज हलकान रहें।



 बायोमीट्रिक सिस्टम से नाराजगी 

अस्पताल में जिन कर्मचारियों को वेतन मिला है उनके वेतन में कटौती की गयी हैं जबकि अभी बहुतों को तो वेतन ही नहीं मिला है जबकि वेतन हर महीने की पहली तारीख को ही आ जाती थी। मुंबई लाइव से बात करते हुए अस्पताल के कर्मचारियों ने कहा कि जिन नर्सों और कर्मचारियों के पगार हुए हैं उनमें कटौती हुई है। इसकी वजह बायोमीट्रिक हाजिरी सिस्टम है इसीलिए उसे बंद होना चाहिए।

यही नहीं कर्मचारियों का यह भी कहना है कि केईएम अस्तपाल में 15 हजार कर्मचारी काम करते हैं, लेकिन यहां जो बायोमीट्रिक मशीनें लगी हैं वे कम हैं, हाजिरी लगाने के लिए लाइने लगनी पड़ती हैं, नंबर आते आते आधा घंटा ऐसे ही बीत जाता है। उसी आधे घंटे के लिए हमारा पैसा काटा जाता है इसीलिए बायोमीट्रिक सिस्टम बंद करना चाहिए।


नहीं तो फिर शुरू होगा हड़ताल 

केईएम के डीन डॉ. अविनाश सुपे के कार्यालय के सामने सभी आंदोलनकारी जमा हुए थे। तीन घंटे तक हड़ताल करने के बाद सभी लोग अपने अपने काम पर वापस लौट गए। तब तक सारा काम काज ठप्प पड़ा हुआ था। अस्पताल के कर्मचारियों ने कहा कि अगर हमारी मांगे नहीं मानी गयी तो हम फिर से हड़ताल करेंगे।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें