आंदोलन पर आणिक पांजारपोल लिंक रोड प्रकल्प के विस्थापित

 Mumbai
आंदोलन पर आणिक पांजारपोल लिंक रोड प्रकल्प के विस्थापित

मुंबई महानगर प्रदेश विकास प्राधिकरण के आणिक पांजारपोल लिंक रोड प्रकल्प के 2000 विस्थपित लोग सात वर्षों से भटक रहे हैं। 2000 विस्थापितों के त्वरित पुनर्वसन कराने की मांग के लिए बुधवार को विस्थापित एमएमआरडीए कार्यालय पर पहुंचे। जहां उन्होंने कहा कि जब तक एमएमआरडीए पुनर्वसन का ठोस आश्वासन नहीं देता तबतक वे यहां से नहीं हटेंगे। विस्थापित लोग एमएमआरडीए कार्यालय के सामने धरने पर बैठ गए।

आणिक पांजरपोल लिंक रोड प्रकल्प के लिए हजारों झोपडपट्टी वासियों को विस्थापित किया गया था। इन विस्थापितों का एमएमआरडीए के द्वारा पुनर्वसन किया जाना था, जिसके कई विस्थापितों का पुनर्वसन एमएमआरडीए ने किया। लेकिन आज भी 2000 विस्थापित पुनर्वसन से वंचित हैं, यह आरोप आंदोलनकर्ता मोतीराम खरात ने लगाया है। उन्होंने कहा कि एमएमआरडीए हमारी बात नहीं सुन रही है इसलिए हमने उपोषण पर बैठने का निर्णय लिया है।

विस्थापितों ने एमएमआरडीए के विरोध में जोरदार घोषणाबाजी किया और मांग पूरी होने तक उपोषण पीछे नहीं लिए जाने की बात कही। एमएमआरडीए के वरिष्ठ अधिकारी ने इन्हें रहिवासी विस्थापित मानने से इनकार किया और कहा कि आंदोलनकर्ता एमएमआरडीए से झूठ बोल रहे हैं।

Loading Comments 

Related News from सिविक