कभी मुंबई की शान...अब गंदगी से बदहाल

पवई - मुंबई के सबसे बड़े तालाब की हालत खराब है। कभी लोगों को अपनी ओर आकर्षित करनेवाला ये पवई का तालाब आज अस्वच्छता की मार झेल रहा है। इस गंदगी का मुख्य कारण है औद्योगिक कारखाने। इतना ही नहीं, होटलों से निकलनेवाला गंदा पानी और खाद्य पदार्थ भी इसी तालाब में गिराये जाते है।

सोमवार को बीएमसी के स्थाई समिति के अध्यक्ष यशोधर फणसे, स्थाई समिति में गटनेता मनोज कोटक, स्थाई समिति के सदस्य संतोष धुरी ने इस तालाब का दौरा किया।

कुछ दिनों पहलें ही तालाब में हाउस बोट पलटने से एक हादसा हुआ था। बावजूद इसके बीएमसी ने अभी तक कोई सीख नहीं ली है। बुधवार को बीएमसी स्थाई समिति की बैठक है। अब देखना ये होगा की जिन नेताओं ने इस तालाब का दौरा किया है क्या वे इस तालाब के मुद्दे का उठाएंगे या फिर शांती से सबकुछ देखते रहेंगे।

Loading Comments