मुंबई में हर महीने मारे जाते है 20 हजार चूहे

    Mumbai
    मुंबई में हर महीने मारे जाते है 20 हजार चूहे
    मुंबई  -  

    मुंबई में पिछलें कई दिनों से लोग चूहो से परेशान है। लेप्टोस्पायरोसीस के कारण मुंबई में कई लोगों को परेशानियों का सामना करना प़ड़ता है। पिछले चार महिनों में मुंबई में कई बार चूहे से जुड़ी शिकायते मिलती रही है। पिछलें चार महिने में 81 हजार चूहो को मार दिया गया है। संबंधित विभाग को अभी तक 900 से भी ज्यादा शिकायते मिली है।


    चूहो के कारण लेप्टोस्पायरोसीस और प्लेग जैसी बीमारियां फैलती है। चूहो के मलमुत्र से कई अन्य बीमारियां भी होती है। बीएमसी की ओर से चूहो को मारने के लिए चार तरिका का इस्तेमाल किया जाता है। साल 2017 में जनवरी से लेकर अप्रेल महीने तक 81050 चूहो का मारा गया। तो वही बीएमसी को 3715 चूहो से जुड़ी शिकायते मिली थी।


    क्या है लैप्टो के लक्षण-
    आंख, नाक से पानी निकलना
    सिरदर्द
    आंखों का लाल होना और दर्द रहना
    बुखार आना
    उल्टी होना
    ठंड लगना
    गर्दन में जकड़न और दर्द
    पैरों में दर्द रहना पेट में दर्द होना

    लेप्टो से कैस बच सकते हैं आप?
    गंदे पानी या कीचड़ में पैर न रखें।
    पैरों की उंगलियों के बीच साफ कपड़े से सफाई करें।
    बारिश के पानी में ये कीटाणु मिले रहते हैं इसलिए जब भी पैर गंदे पानी में चला जाए तुरंत उसे साफ पानी से धो लें।
    साबुन से अच्छे से हाथ और पैरों को धोएं।
    जूतों और चप्पलों को भी साफ कपड़े से साफ करके ही पहनें।
    अगर चोट और खरोंच लग गई हो तो उसे अच्छे से साफ करके दवा और पट्टी जरूर कर लें।
    जिन इलाकों में लेप्टो के सबसे ज्यादा मामला आए है उस इलाके के हर घर में जाकर चूहों को तलाश रही है।


    डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

    मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

    (नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दें) 


    Loading Comments

    संबंधित ख़बरें

    © 2018 MumbaiLive. All Rights Reserved.