आजादी के बाद अभी भी अच्छी सड़कों को तरसे यहां के लोग

आजादी के बाद अभी भी अच्छी सड़कों को तरसे यहां के लोग
आजादी के बाद अभी भी अच्छी सड़कों को तरसे यहां के लोग
आजादी के बाद अभी भी अच्छी सड़कों को तरसे यहां के लोग
See all
मुंबई  -  

रे रोड - दारुखाना झुग्गी बस्तियों में रहने वाले निवासी इन दिनों बेहद तकलीफों में जी रहे हैं। यहां के लोगों को बुनियादी सुविधाएं भी नसीब नही हो रही हैं। कचरों के अलावा , बिजली चोरी भी इस इलाके में एक बड़ी समस्या है। पीने का पानी भी यहां के निवासियों को काफी मुश्किलों से मिल पाता है।ये जगह बीपीटी की होने के बाद भी बीपीटी प्रशासन ने इस ओर अभी तक कोई ध्यान नहीं दिया है। उलट वो इसे बीएमसी की लापरवाही मान रही है।

स्थानीय निवासी मोहम्मद शेख का कहना है कि "यहां के रहनेवालों की हालत ऐसी है की आजादी के इतने साल बाद भी यहां के लोगों को टैंकर से पानी मंगाना पड़ता है। यहां पर लोग पिछलें 15 सालों से रह रहे हैं लेकिन सुविधाओं ने नाम पर यहां कुछ भी नहीं है।आरटीआई कार्यकर्ता कमलाकर शेनॉय ने बताय़ा कि इस इलाके में स्ट्रीट लाइट, शौचालय या अच्छी सड़क तक नहीं है। सभी राजनेता आते हैं और बदलाव लाने का आश्वासन देते हैं लेकिन कोई भी जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Loading Comments

संबंधित ख़बरें

© 2018 MumbaiLive. All Rights Reserved.