RPF ने 22 टैक्सी चालकों के खिलाफ की कार्रवाई

ये टैक्सी वाले यात्रियों से चार गुना किराया तक वसूल करते थे। साथ ही पैसेजरों को मीटर से न ले जाने, नजदीक का भाड़ा इनकार करने जैसी हरकतें करते थे।

SHARE

मुंबई सेंट्रल रेलवे स्टेशन के बाहर यात्रियों से अधिक किराया वसूल करने के कारण रेलवे सुरक्षा बल (RPF) ने टैक्सी चालकों पर कार्रवाई की। ये टैक्सी वाले यात्रियों से चार गुना किराया तक वसूल करते थे। साथ ही पैसेजरों को मीटर से न ले जाने, नजदीक का भाड़ा इनकार करने जैसी हरकतें करते थे। आरपीएफ ने कुल 22 टैक्सी वालों पर कार्रवाई की।

बताया जाता है कि मुंबई सेंट्रल रेलवे स्टेशन पर उतरे एक पैसेंजर ने जब एक टैक्सीवाले से घाटकोपर चलने के लिए कहा तो उस टैक्सी वाले ने झट से 700 रूपया बोल दिया, यह सुन कर पैसेंजर चौंक गया। जब उस पैसेंजर ने टैक्सी वाले को मीटर से चलने को कहा तो टैक्सी वाले ने इनकार दिया। इसके बाद उस पैसेंजर ने इसकी शिकायत आरपीएफ से कर दी।

इसेक बाद आरपीएफ ने 22 टैक्सी वालों पर कार्रवाई करते हुए सभी को कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने सभी को कोर्ट चालू रहने तक कोर्ट के बाहर इंतजार करने का आदेश दिया। यही नहीं कोर्ट ने सभी को 300 रुपए जुर्माना भरने का भी आदेश दिया। इसके साथ ही कोर्ट ने यह भी कहा कि स्टेशन के बाहर जितने भी गाड़ियां पार्क की गयी हैं सभी को ट्रैफिक पुलिस की मदद से और टॉइंग बुलाकर हटाया जाए।

संबंधित विषय