नागरी सुविधा विभाग नोट बदली का केंद्र - मनसे

मुंबई - महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के नेता संदीप देशपांडे ने बीएमसी की नागरी सुविधा केंद्र पर नए नोटों के हेराफेरी का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि नागरी सुविधा केंद्र विभाग नोट बदली का केंद्र बन गया है। बुधवार को बीएमसी की हुई स्थायी समिति की बैठक में संदीप देशपांडे ने यह आरोप लगाया।

संदीप देशपांडे ने आरोप लगाते हुए कहा कि 8 नवंबर को पीएम मोदी द्वारा नोटबंदी की घोषणा के बाद 500 और हजार के नोट पर बैन लगा दिया गया था, लेकिन 24 नवंबर तक पुराने नोटों को कुछ विभागों द्वारा स्वीकार करने की छूट दी गयी थी। जिसके चलते मनपा के नागरी सुविधा केंद्र में कई लोगों ने बड़ी मात्रा में पुराने नोट जमा किये थे। पालिका के टी विभाग में 16 नवंबर को 2000 के कुल सात नए नोट जमा हुए थे। नियमानुसार इन नोटों को एचडीएफसी बैंक में जमा कराना चाहिए था, लेकिन विभाग वालों ने 2000 के नए नोट छोड़कर अन्य नोटों को जमा करा दिया।

देशपांडे ने आरोप लगाते हुए कहा कि ये नोट कहां बदली किये गये, इसकी जांच होनी चाहिए। देशपांडे ने आशंका व्यक्त करते हुए कहा कि मनपा के नागरी सुविधा केंद्र पर नोट बदलवाने के लिए क्या रैकेट काम कर रहा है? पुलिस को इसकी जांच करनी चाहिए।

Loading Comments