होटल, रेस्टोरंट के टॉयलेट्स सबके लिए ?

 Mumbai
होटल, रेस्टोरंट के टॉयलेट्स सबके लिए ?

मुंबई - दक्षिण दिल्ली नगरपालिका ने एक नया नियम अमल में लाया है। इस नियम के मुताबिक प्राइवेट होटल और रेस्टोरंट के टॉयलेट का इस्तेमाल जनता द्वारा किया जा सकता है। इसका इस्तेमाल पे एंड यूज की नीति के अनुसार किया जा रहा है। दिल्ली के बाद मुंबई में इस नियम के लागू कराने की मांग उठने लगी हैं। मुंबई में महिलाओं पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करती हैं। पर मुंबई में टॉयलेट्स की संख्या कम है। 2011 के एक सर्वे के मुताबिक मुंबई में पुरुषों के लिए 2 हजार 849 मुफ्त स्वच्छतागृह हैं। वहीं महिलाओ के लिए एक भी मुफ्त नहीं है।

‘राईट टू पी’ महिलाओं के लिए काम करने वाली कार्यकर्ता मुमताज शेख ने इस निर्णय का विरोध किया है, उनकी मांग है कि यह नियम लागू करने की बजाय बीएमसी को महिलाओं के लिए टॉयलेट्स बनाने चाहिए।



Loading Comments