दवाइयों की तरह सभी वैद्यकिय उपकरणों के भी दाम हो सस्ते

 Mumbai
दवाइयों की तरह सभी वैद्यकिय उपकरणों के भी दाम हो सस्ते

स्टेंट की कीमतों को नियंत्रण में करने की बाद अब सभी प्रकार के लगभग 4500 डॉक्टरी उपकरणों को भी दवाइयों की कैटगरी में शामिल करते हुए उनके कीमतों को भी नियंत्रित करने की मांग उठी है। ऐसा इसलिए क्योंकि FDA (फ़ूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन) के एक प्रस्ताव के अनुसार एंजियोंप्लास्टी करते समय उपयोग में लाए जाने वाले कंथेटर और मोतियाबिंदु के ऑपरेशन में लगाए जाने वाले लेंस की कीमतों के द्वारा मरीजो से कई आर्थिक लूट की शिकायत मिली थी. इस लूट को रोकने के लिए सभी डॉक्टरी उपकरणों की कीमतों को भी नियंत्रित करने की मांग की गयी है। सोसायटी फाँर अवेरनेस आँफ सिविल राईटस ने पत्र लिखा कर इस बात का निवेदन पीएम नरेंद्र मोदी से भी की है।

कुछ हजारों में मिलने वाले स्टेंट के लिए मरीजों को लाखो में दिया जाता था, इस आशातीत लूट को रोकने के लिए केंद्र सरकार ने स्टेंट की कीमतों को नियंत्रित करने का फैसला लिया था। पिछले कई सालों से वैद्यकीय उपकरणों को भी सस्ती दरों में उपलब्ध कराने की मांग हो रही है। इस मांग को देखते हुए 2016 में FDA ने मांग को मानते हुए नए नियाम लागू करते हुए वैद्यकिय उपकरणों को दवाइयों में शामिल करने का निर्णय लिया था, लेकिन अभी तक इस प्रस्ताव को मंजूरी नहीं मिलने से यह प्रस्ताव नहीं पास हो पाया है। इसीलिए जनओराग्य अभियान के कार्यकर्ता उमेश खके ने इस प्रस्ताव को जल्द से जल्द पास कराने की मांग की है। कंथेटर, लेंस ही नहीं सभी प्रकार की 4500 वैद्यकिय उपकरणों की कीमतों को कम करने का निवेदन सोसायटीचे अध्यक्ष आर. पी. यजुर्वेदी राव ने पीएम मोदी को पत्र द्वारा किया है.


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 

 






Loading Comments