Advertisement

जल्द ही पता करे रेस्टोरेंट में फायर सेफ्टी इक्विपमेंट है या नहीं?

एक बार ऐप बनने के बाद रेस्तरां को क्यूआर कोड दिया जाएगा जिसके बाद इस बात का पता कर सकते है की क्या रेस्तरां फायर सेफ्टी इक्विपमेंट से लैस है या नहीं

जल्द ही पता करे रेस्टोरेंट में फायर सेफ्टी इक्विपमेंट है या नहीं?
SHARES

29 दिसंबर, 2017 को कमला मिल्स कंपाउंड में आग लगने में इस हादसे में 14 लोगों की मौत हो गई थी। एक जांच से पता चला कि दोनों रेस्तरां ने फायर सेफ्टी उपकरण पर कुछ ज्यादा ध्यान नहीं दिया। हालांकी इस हादसे के बाद कोर्ट मे कई तरह के कई गाइडलाइंस बीएमसी और दमकल विभाग के लिए जारी किये। मुंबईकर अब जल्द ही एक ऐप से इस बात का पता लगा सकते है की जिस रेस्तरां में वो खाना खा रहे है वो फायर सेफ्टी है या नहीं।

कोर्ट के आदेश के बाद आया फैसला

वरिष्ठ बीएमसी अधिकारी ने बताया की वे निजी कंपनियों के साथ बातचीत कर रहे हैं जो इस तरह के सिस्टम को शहर के लिए डिजाइन करने में सक्षम होंगे। उन्होंने कहा कि नागरिकों के लिए उन रेस्तरां के अग्नि सुरक्षा मानकों को जानना महत्वपूर्ण है जहां वे जा रहे हैं। पिछलें दिनों कमला मिल्स में लगी आग पर सुनवाई करने के दौरान कोर्ट ने बीएमसी को शहर में मौजूद सभी रेस्तरां के फायर ऑडिट का आदेश दिया था। इसके साथ ही कोर्ट ने बीएमसी को एक ऐसा ऐप भी बनाने का आदेश दिया था।


प्रत्येक रेस्तरां में एक क्यूआर होगा जो फायर ब्रिगेड के डेटाबेस से जुड़ा होगा। प्रत्येक रेस्तरां को ये क्यूआर कोड अपने गेट के बाहर लगाना होगा। जिससे रेस्तरां में आए लोगों को ये पता चल पाएगा की क्या रेस्तरां में फायर सेफ्टी एक्विपमेंट हैं या नहीं।


यह भी पढ़े- बांद्रा के शास्त्री नगर झोपड़पट्टी में लगी आग

Read this story in English
संबंधित विषय