Advertisement

अब बीएमसी वार्ड की पहचान होगी अलग अलग रंगो से

मुंबई उपनगर में (Mumbai suburb) 15 बीएमसी वॉर्ड को अब अलग अलग रंग मिलने जा रहा है। हर एक वार्ड में एक महत्तवपूर्ण चौकी को पहचानकर उनका पूरी तरह से कायापलट किया जाएगा। वार्ड में एक चौकी का सौंदर्यीकरण(Beautification) किया जाएगा।

अब बीएमसी वार्ड की पहचान होगी अलग अलग रंगो से
SHARES

मुंबई उपनगर में (Mumbai suburb) 15 बीएमसी वॉर्ड को अब अलग अलग रंग मिलने जा रहा है।  हर एक वार्ड में एक महत्तवपूर्ण चौकी को पहचानकर उनका पूरी तरह से कायापलट किया जाएगा। वार्ड में एक चौकी का सौंदर्यीकरण(Beautification) किया जाएगा।

उपनगरीय इलाकों में प्रमुख सड़कों पर मशीनरी के समन्वय(planning) के लिए , कलेक्टर कार्यालय (Collector Office) और मुंबई नगर निगम(Mumbai Municipal Corporation) द्वारा एक योजना तैयार की गई है। इस योजना के अंतर्गत सौंदर्यीकरण, सूत्रीकरण, सुरक्षा जैसे मुद्दो को लागू किया जाएगा।  इसके साथ ही वार्ड के महत्तवपुर्ण इलाके में वार्ड, द्विभाजन, रेलिंग आदि के महत्वपूर्ण स्थानों के साथ-साथ, चेहरे क्षेत्र के तत्वों को वार्ड के अनुसार रंग दिया जाएगा। इससे आपको पता चल जाएगा कि आपने किस रंग को देखकर वार्ड में प्रवेश किया है।

शहर के मुख्य चौराहों पर अव्यवस्थाएं, टूटी हुई तख्तियां, लटकते तार, भारी यातायात, मनमाने वाहन चालक हमेशा दिखाई देते हैं। इस तस्वीर को बदलने के लिए यह योजना बनाई गई है।तब्दील चौकी आसपास के क्षेत्र, उचित दिशा, प्रस्थान सिग्नल प्रणाली, जीर्ण चैनलों की व्यवस्था, लटकते तारों, विभिन्न प्रणालियों द्वारा मुख्य सड़कों पर फ्लैक्स के बारे में जानकारी प्रदान करेगी और एक योजनाबद्ध तरीके से एक स्थान पर प्रदान की जाएगी।

यह योजना मुंबई नगर निगम के वरिष्ठ इंजीनियरों की एक टीम ने तैयार की है। प्रत्येक वार्ड के लिए 1 करोड़ रुपये का बजट तय किया गया है। कुल मिलाकर बीएमसी इस कार्य के लिए 15 करोड़ रुपये खर्च करेगी।

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय