• अब NRI पतियों और विदेशी नौकरी के नाम पर नहीं ठगी जाएंगी महिलाएं
  • अब NRI पतियों और विदेशी नौकरी के नाम पर नहीं ठगी जाएंगी महिलाएं
SHARE

विदेश में नौकरी के नाम पर महिलाओं से ठगी हो या फिर NRI पति से शादी के बाद शोषण की घटना हो, अब महिलाओं की सहायता के लिए सीधे महिला आयोग सामने आकर सहायता उपलब्ध कराएगा। बड़ी संख्या में इस तरह की कई शिकायतें मिलने के बाद ही राज्य महिला आयोग ने यह कदम उठाया है।

अब तक इन शिकायतों के निवारण के लिए राज्य महिला आयोग के पास किसी तरह की कोई मदद के उपाय नहीं थे, लेकिन अब विदेश मंत्रालय और महिला आयोग साथ मिल कर काम करेंगे। राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष विजया राहटकर ने मुंबई लाइव को बताया कि देश के सभी महिला आयोग को साथ आना चहिये विदेश मंत्रालय के साथ मिल कर काम करना चाहिए।

राहटकर ने बताया कि महीने भर पहले मुंबई में महिलाओं की सुरक्षा के प्रश्नों पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इस कार्यक्रम में महिलाओं को किस तरह से विदेश में नौकरी दिलाने के नाम पर शोषण करना और NRI पति के द्वारा महिलाओं को ठगे जाना जैसे कई मुद्दों पर चर्चा की गयी। इस कार्यक्रम में निर्णय लिया गया कि सभी राज्य महिला आयोग विदेश मंत्रालय के साथ मिल कर एक मंच का निर्माण करेंगे और साथ मिल कर काम करेंगे।

राहटकर ने आगे बताया कि इस संदर्भ में सोमवार को भी राज्य महिला आयोग और विदेश मंत्रालय के बीच एक बैठक संपन्न हुई। इस बैठक में इस बात पर सहमति बनी कि इस कार्य के लिए एक मशीनरी तैयार की जाएगी और उसी मशीनरी के तहत सभी मिल कर काम करेंगे। अगर किसी भी स्थान से कोई महिला शिकायत करती है तो उस शिकायत का जल्द से जल्द निवारण किया जाएगा।

राहटकर ने आशा जताई है कि राज्य महिला आयोग और विदेश मंत्रालय के इस सहयोग से आने वाले दिनों में विदेशों में महिलाओं का शोषण होने की घटना में कमी आएगी।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।         

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें