झावबावाड़ी के रहिवासियों का डर

गिरगांव - मुंबई में हमेशा नए निर्माण कार्य जारी रहते हैं। कई बार विकास नियंत्रण नियम भंग होते हैं तो कभी निर्धारित मानक से ज्यादा मंजिल बनाए जाते हैं और अधिकांशतर देखा गया है कि निर्माण कार्य आरक्षित जमीनों पर ही कर दिए जाते हैं। नए निर्माण कार्य तेज गति से करने का प्रयास किया जाता है। इस दौरान आस-पास की इमारतों को नजरअंदाज कर दिया जाता है। कुछ ऐसा ही हो रहा है गिरगांव के झावबावाड़ी में जहां पार्वती बिल्डिंग का निर्माण कार्य जारी है। जहां पाइलिंग का कार्य जोर-शोर से चालू है जिसकी वजह से आस-पास की बिल्डिंगों में भारी वाइब्रेशन होता है। इमारतें बहुत पुरानी होने के कारण इसके गिरने का डर इसमें रहने वाले नागरिकों को हमेशा सताता रहता है। जिसे लेकर लोगों ने पुलिस और पालिका से शिकायत की लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। इस बारे में कॉन्ट्रैक्टर आसिफ पारेख जहां कुछ भी कहने से इनकार कर रहे हैं वहीं सी विभाग के सहायक आयुक्त जिवक घेगडमल ने यह कह कर अपना पल्ला झाड़ लिया कि पालिका को शिकायत लेने का अधिकार है पर कार्रवाई करने का अधिकार पुलिस के पास है।

Loading Comments