चलती कार में नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म, 3 गिरफ्तार

आरोपियों लड़की को लिफ्ट देने के नाम पर उसे कार में बैठाया और वारदात को अंजाम दिया।

चलती कार में नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म, 3 गिरफ्तार
SHARES


मानखुर्द इलाके में चलती कार में तीन युवकों द्वारा एक नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म (gang rape with minor girl in mumbai) करने की जघन्य वारदात सामने आई है। आरोपियों लड़की को लिफ्ट देने के नाम पर उसे कार में बैठाया और वारदात को अंजाम दिया।

साथ ही उन तीनों आरोपियों ने लड़की को यह भी धमकी दी कि अगर उसने इस बारे में किसी को बताया तो इसके बुरे परिणाम होंगे। मानखुर्द पुलिस (mankhurd police) ने इस मामले में शिवाजी नगर इलाके से तीनों आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

मिली जानकारी के अनुसार,15 वर्षीय पीड़ित लड़की अपने मौसी के साथ रहती है। 29 जुलाई को रात करीब 10.30 बजे पीड़ित लड़की पीएमजीपी कॉलोनी में रहने वाली अपनी मौसी के घर जाने के लिए मानखुर्द-घाटकोपर लिंक रोड से निकली थी। पीड़िता लड़की को अकेला देखकर आरोपियों ने उसके पास गाड़ी रोक दी। उस समय इन तीनों ने लड़की को यह कह कर उसे लिफ्ट कर लिए बुलाया कि, रात के अंधेरे में अकेले यात्रा करना खतरनाक था।

लड़की ने तीनों पर विश्वास जताते हुए कार में बैठ गई। जब लड़की कार में बैठी तो तीनों पीएमजीपी कॉलोनी की तरफ न जाते हुए गाड़ी को वाशी नाका, चेंबूर, वडाला और बैगनवाड़ी इलाकों में घुमाते फिराते रहे, और चलती कार में ही लड़की के साथ दुष्कर्म करते रहे। करीब 2 घंटे तक लड़की के साथ अत्याचार करने के बाद उसे PMGP कॉलोनी के निकट छोड़ दिया, और यह धमकी भी दी कि, अगर उसने इस बारे में किसी को कुछ बताया तो उसके साथ बुरा होगा।

इसके बाद तीनों आरोपी कार लेकर फरार हो गए। घर आने के बाद, पीड़िता ने अपनी मौसी सारी बात बताई। फिर लड़की के परिवार वालों ने शिवाजीनगर पुलिस स्टेशन में तीन आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कराया।  

आगे की जांच के लिए मामला मानखुर्द पुलिस को सौंप दिया गया। मानखुर्द पुलिस से सीसीटीवी की मदद से कार की पहचान की और उसके माध्यम से तीनों आरोपियों तक पहुंची। तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर उन्हें रविवार को सत्र न्यायालय में पेश किया गया जहां से अदालत ने तीनों को सात दिनों की पुलिस हिरासत में भेज दिया।

Read this story in मराठी
संबंधित विषय