मुंबई में सामने आया पहला ट्रिपल तलाक का मामला

नागपाड़ा पुलिस ने सैय्यद अनवर अली (39) को उसकी पत्नी को ट्रीफल तलाक देने के लिए बुक किया है। वह तब से फरार है।

SHARE

नागपाड़ा पुलिस ने 39 वर्षीय एक व्यक्ति पर  पिछले साल नवंबर में अपनी पत्नी को  ट्रिपल तलक देने का मामला दर्ज किया है। मुंबई में ट्रिपल तालक का यह पहला मामला है क्योंकि केंद्र सरकार ने दो सप्ताह पहले इस प्रथा का अपराधीकरण किया था। नागपाड़ा पुलिस ने सैय्यद अनवर अली (39) को उसकी पत्नी को ट्रीफल  तलाक देने के लिए बुक किया है। वह तब से फरार है। 


मिड-डे पेपर में छपी खबर के अनुसार नागपाड़ा की रहने वाली महिला ने 2005 में अली से शादी की थी। जब वह अहमदनगर स्थित अपने ससुराल गई, तो उसे पता चला कि अली बेरोजगार है और अपने माता-पिता पर आर्थिक रूप से निर्भर है। जिसके पत्नी फिर से अपने घर मुंबई लौट आई और नौकरी करने लगी।   37 वर्षीय नागपाड़ा में अपने पिता के स्वामित्व वाले एक फ्लैट में रहने लगी। अली, भी मुंबई आया  और अपने ससुर से उधार लिए गए पैसों से छोटे व्यवसायों में अपनी किस्मत आजमाई। 


हालांकि, वह बुरी तरह से असफल रहे। उन्होंने इसके बाद अपनी पत्नी से पैसे मांगने शुरू कर दिया और बार बार अपनी पत्नी को तलाक की धमकी देने लगा।   2009 में, महिला ने जुड़वां लड़कियों को जन्म दिया। इसके बाद, अली मुंबई और अहमदनगर के बीच लगातार यात्राएँ करता। अपनी बेटियों के जन्म के कुछ साल बाद, वह उन्हें अहमदनगर ले गया। 

नवंबर 2018 में, अली ने अपनी पत्नी को ट्रीपल तलाक दे दिया। जिसके बाद महीला ने अपने पति को समझाने की भी कोशिश की।  लेकिन असफल प्रयासों के बादउसने नागपाड़ा पुलिस से संपर्क किया और बुधवार शाम नए कानून के तहत अली के खिलाफ शिकायत दर्ज की।

नागपाड़ा पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की मुस्लिम महिलाओं (विवाह पर अधिकारों का संरक्षण) अधिनियम, 2019, और धारा 498 (आपराधिक शादीशुदा महिला के साथ छेड़छाड़ या हिरासत में लेना या हिरासत में लेना) के तहत मामला दर्ज किया है।

संबंधित विषय