कुर्ला टर्मिनस के टिकट काउन्टर से 44 लाख रुपए हुए चोरी

यह रुपए एक दिन का कलेक्शन था यानी एक दिन में टिकट बेच कर इतने रुपए जमा हुए थे। इस मामले में कुर्ला पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

SHARE
मुंबई का सबसे महत्वपूर्ण टर्मिनस में से एक कुर्ला यानी लोकमान्य तिलक टर्मिनस के टिकट काउन्टर से 44 लाख रूपये की चोरी हो गयी। यह रुपए एक दिन का कलेक्शन था यानी एक दिन में टिकट बेच कर इतने रुपए जमा हुए थे। इस मामले में कुर्ला पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

क्या था मामला?

कुर्ला टर्मिनस में चीफ बुकिंग सुपरवाइजर का काम करने वाले सुनील तेलतुंबडे पिछले डेढ़ साल से यहीं काम कर रहे हैं। लेकिन इस समय जहां से पैसे चोरी हुए हैं उस स्थान की जिम्मेदारी मुख्य बुकिंग सुपरवाइजर एस.के.चौधरी के पास थी, क्योंकि सुनील तेलतुंबडे 16 सितंबर से छुट्टी पर थे। जैसे-जैसे पैसे जमा होते जाते हैं उन्हें तिजोरी में जमा करते जाते हैं, लेकिन वहां CCTV नहीं लगा हुआ था।

22 सितंबर के दिन पहली शिफ्ट में विनोद पिल्लै के अंडर में छह अधिकारियों ने सुबह 8 से दोपहर 4 बजे तक काम किया गया। उसके बाद दूसरी शिफ्ट में समीर ताहराबादकर के अंडर में रात 12 बजे तक सजित नायर, रतिश झा, हरिशचंद्र, जम्मन मीना, पंकजकुमार सिंह ने काम किया. जबकि तीसरी शिफ्ट में छह लोगों ने काम किया।

बताया जाता है कि तिजोरी की चाभी समीर ताहराबादकर के पास थी। 23 सितंबर की रात जम्मन मीना ने इन पैसों को तिजोरी में जमा किया था, लेकिन उसी रात पैसे चोरी हो गये। इसके बाद जम्मन ने रात 2 बजे के लगभग तेलतुंबडे को पैसे चोरी होने की जानकारी दी। तिजोरी में कुल  44 लाख 29 सौ 501 रूपये थे। इसके बाद इस चोरी की जानकारी कुर्ला रेलवे पुलिस को दी गयी।

मौके पर CCTV नहीं  होने के कारण पुलिस को जांच में मुश्किलें आ रही हैं लेकिन पुलिस अन्य सुराग से आरोपियों का पता लगाने में जुट गयी है।
 
संबंधित विषय
ताजा ख़बरें