यूरोप भेजकर ठगी करनेवाले गिरोह का पर्दाफाश

 CST
यूरोप भेजकर ठगी करनेवाले गिरोह का पर्दाफाश

युवक- युवतियों को यूरोप भेजने के नाम पर ठगी करने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश मुंबई पुलिस ने किया है। पकड़े गए तीनों ही आरोपी बॉलीवुड में काम करते हैं। इस मामले में एंटी ट्रैफिकिंग सेल ने चार युवतियों को छुड़ाया है और साथ ही तीन आरोपियों को गिरफ्तार भी किया है।

ये गिरोह ऐसे लोगों को शिकार बनाता था जो अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा के लिए विदेश भेजना चाहते थे। प्रत्येक परिवार से 10 लाख रुपये लेने के बाद इस गिरोह के सदस्य बच्चियों को यूरोप ले जाने के नाम पर गुरुद्वारा जैसी किसी जगह पर छोड़ देते थे। उनके शिक्षा, रहने और खाने की किसी भी तरह से कोई भी व्यवस्था नहीं करते थे। साथ ही बच्चों के लिए बनाए गए पासपोर्ट को अपने साथ वापस ले आते थे।


गुरुवार को मुंबई पुलिस की स्पेशल टीम को इस गिरोह की खबर लगी। क्राइम ब्रांच डीसीपी शशिकांत सातव ने बताया की एयरपोर्ट से इन चीनो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।

क्या है गिरोह का बॉलीवुड कनेक्शन-
ये तीनों आरोपी बॉलीवुड में काम करते हैं। मुख्य आरोपी आरिफ शफी फारुकी (उम्र 38 साल) बॉलीवुड में स्टिल फोटोग्राफर का काम करता है। राजेश पवार (47) असिस्टेंट कैमेरामैन फातिमा फरीद अहमद (48) हेयर स्टाइलिश के तौर पर काम करते हैं। इन तीनों आरोपियों में से मुख्य आरोपी आरिफ शफी फारुकी पंजाब में रहता है। विदेश ले जाने के नाम पर वह पंजाब से लोगों को मुंबई लेकर आता। पंजाब में एजेंट 2 लाख खुद लेता था। अभी तक आरोपियों ने 15 से 20 युवक-युवतियों को यूरोप भेजने की बात कबूली है।

Loading Comments