विरार में रह रहे अवैध बांग्लादेशी गिरफ्तार

मानव तस्करी विरोधी यूनिट ने अवैध रूप से रह रहे 23 बांग्लादेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया है

विरार में रह रहे अवैध बांग्लादेशी गिरफ्तार
SHARES

कुछ दिनों पहले ही महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे ने मुंबई में रहनेवाले अवैध बांग्लादेशी और पाकिस्तानियों के खिलाफ मोर्चा खोला। राज ठाकरे ने अपने चित परिचित अंदाज में कहा की अगर महाराष्ट्र में रह रहे अवैध बांग्लादेशियों और पाकिस्तानियों को बाहर नहीं किया गया तो मनसे अपने अंदाज में जवाब देगी। राज ठाकरे के इस कदम के बाद मुंबई पुलिस सक्रिय दिख रही है। मुंबई से सटे ठाणे इलाके के विरार में आतंकवाद निरोधी सेल (Anti-terrorism cell) और मानव तस्करी विरोधी यूनिट (anti-human trafficking unit) ने अवैध रूप से रह रहे 23 बांग्लादेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया है। इस मामले में अर्नला पुलिस आगे की जांच कर रही है।

 9 फरवरी  एक मार्च

मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे ने पाकिस्तानियों और बांग्लादेशियों की घुसपैठ को निकालने  के लिए 9 फरवरी को एक मार्च निकाला था। राज ठआकरे ने इस मामले में पुलिस से कार्रवाई की भी मांग की थी । विरार से इन अवैध बांग्लादेशियों को गिरफ्तार करवाने में मनसे कार्यकर्ताओं की अहम भूमिका है। मनसे कार्यकर्ताओं ने ही इन अवैध बांग्लादेशियों की जानकारी पुलिस को दी थी।  

 सभी बांग्लादेशी मजदूरी और व्यापार के लिए आए

पुलिस जांच में पता चला है कि सभी बांग्लादेशी मजदूरी और व्यापार के लिए आए थे। यह स्पष्ट है कि इन बांग्लादेशियों ने मराठी भी सीखी। मंगलवार रात बजे से यह कार्रवाई की गई है। अर्नला मरीन पुलिस स्टेशन में सुबह लगभग बजे मामला दर्ज किया गया है।

यह भी पढ़े- 15 फरवरी से शुरु होगा ‘जेरूसलम-मुंबई महोत्सव’

Read this story in मराठी
संबंधित विषय