फर्जी डाक्यूमेन्ट में नगरसेवकों के नाम

आजाद मैदान - आजाद मैदान पुलिस ने बांग्लादेशियों को भारतीय नागरिकता देने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने गिरोह के मास्टरमाइंड लतीफ गाजी को गिरफ्तार कर दावा किया है कि इस गिरोह में और भी लोगों के शामिल होने का आशंका है। लेकिन सबसे खास बात यह है कि इसमें कुछ नगरसेवक भी शामिल हैं, जिन्होंने इस आरोपी का साथ दिया है। बांग्लादेशियों को पेनकार्ड, आधार कार्ड जैसे कागज बहाल करने के लिए मुंबई, नवी-मुंबई समेत वसई-विरार के लोगों के रेफरन्स लेटर का इस्तेमाल किया गया है। जिसमें घाटकोपर की नगरसेविका प्रतीक्षा घुगे, नवी मुंबई की नगरसेविका मेघाली राउत और वसई- विरार के नगरसेवक नरेंद्र पाटिल का समावेश है।

आजाद मैदान के पुलिस कर्मचारी विजय कदम ने बताया कि लतीफ गाजी ने बांग्लादेशी नागरिकों को पेन कार्ड, आधार कार्ड जैसे महत्वपूर्ण कागज बनाकर देता था, जिसका उपयोग ये लोग जमानत लेने के लिए करते थे।

Loading Comments