तब्लीगी जमात के 150 लोगों पर मुंबई पुलिस ने किया केस दर्ज, पहचान छुपाने का आरोप

दर्ज शिकायत पर जमात के सदस्यों पर महामारी फैलाने और जमात के कार्यक्रम में उपस्थित रहने के बाद भी अपनी जानकारी छुपाने का आरोप है।

तब्लीगी जमात के 150 लोगों पर मुंबई पुलिस ने किया केस दर्ज, पहचान छुपाने का आरोप
SHARES

मुंबई पुलिस ने 150 तब्लीगी जमात के सदस्यों के खिलाफ केस दर्ज किया है जो दिल्ली निजामुद्दीन गए हुए थे, और सरकार द्वारा बार बार अपील करने के बाद भी अपनी जांच कराने सामने नहीं आ रहे हैं। इन सभी के खिलाफ आजाद मैदान पुलिस में आइपीसी की धारा 188, 269 और 270 के तहत केस रजिस्टर्ड किया गया है।

बीएमसी के अनुसार जमात के सदस्यों के खिलाफ  अग्निशमन दल के एक अधिकारी द्वारा पुलिस में शिकायत की गई है। दर्ज शिकायत पर जमात के सदस्यों पर महामारी फैलाने और जमात के कार्यक्रम में उपस्थित रहने के बाद भी अपनी जानकारी छुपाने का आरोप है।

बताया जाता है कि महाराष्ट्र सरकार को इस बात की सूचना मिली थी कि दिल्ली में आयोजित तब्लीगी जमात में हिस्सा लेने के लिए महाराष्ट्र से लगभग 150 लोग गए हुए थे। कोरोना का मामला सामने आने के बाद बीएमसी, पुलिस सहित राज्य सरकार ने इन लोगों से कई बार अपील कर खुद सामने आने की विनती की, और जांच कराने की बात कही। साथ जी सामने न आने पर कार्रवाई करने की भी बार बार चेतावनी दी जा रही थी, लेकिन कोई फायदा न होता देख आखिर 150 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया।

जिनके ऊपर केस दर्ज किया गया उनमें आमीर अनिस रेहमान खान, फैयाज शिरगावकर, अली हुसेन रहिमतुत्ताशेख, मो. नाहिद अहमद शेख, इस्माईल इब्राहिम सिद्दीकी, अब्दुल अजिज खान, मोहम्मद हमजा, सरफराज मोदी, मोहम्मद अल्ताफ खान, सोहेल मोहम्मद मुक्तार पटेल सहित अन्य नाम भी शामिल हैं।

इसके पहले जमात से संबंधित कई सदस्यों को क्वारंटीन किया गया। जिसमें सांताक्रूज बड़ी मस्जिद से 20 लोगों को तो बांद्रा के झरना सोसायटी के 12 लोग शामिल हैं। 

बीएमसी ने भी अपनी तरफ से कई कदम उठाए हैं। उन्होंने किसी भी पीड़ित या संदिग्ध को 1916 पर संपर्क करने की अपील की थी।

यही नहीं पुलिस ने राज्य के सभी जिलों के पुलिस आयुक्त और जिला अधीक्षक कार्यालय में एक नंबर उपलब्ध कराया था, जिसमें जमात से जुड़े लोगों की खबर  या सूचना देने के लिए कहा गया था। जिसका असर मुंबई में भी देखने को मिला और कुल 150 लोगों की पहचान हुई। अब पुलिस इन सभी की शिनाख्त करने में लगी हुई है और सभी का मेडिकल टेस्ट कराया जाएगा।

संबंधित विषय