अंधविश्वास की चपेट में आकर शख़्स ने अपने ही दोस्त की 3 साल की मासूम बच्ची की कर दी हत्या

आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है और उसके खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया है। कोर्ट ने आरोपी को पुलिस कस्टडी में भेज दिया है।

SHARE

मुंबई के कुलाबा इलाके में एक दिल दहला देनेवाली घटना सामने आई है। कुलाबा में एक शख़्स ने अपने दोस्त की 3 साल की मासूम बच्ची को सातवीं मंजिल से नीचे फेंक दिया। पुलिस जांच में इस बात का खुलासा हुआ है की अंधविश्वास की चपेट में आकर  शख़्स ने अपने दोस्त की 3 साल की मासूम बच्ची को सातवीं मंजिल से नीचे फेंक दिया। आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है और उसके खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया है। कोर्ट ने आरोपी को पुलिस कस्टडी में भेज दिया है।

मृतक वर्षीय लड़की अपने परिवार के साथ कोलाबा में रेडियो क्लब के पास अशोका टॉवर की इमारत में रह रही थी। लड़की के पिता, प्रेमलाल हतीराम और आरोपी अनिल  बचपन से ही दोस्त थे। अनिल छह महीने पहले मोरक्को, अफ्रीका से भारत आया था। उसे कही नौकरी नहीं मिल रही थी। इसलिए वह निराशा में था। अनिल समय बिताने के लिए प्रेमलाल के घर जाता था।  वह प्रेमलाल के दोनों जुड़वा बच्चों के साथ समय बिताता था। शनिवार को अनिल लड़कियों को अपने घर में खेलने के लिए ले गया था।

लड़कियां अनिल को जानती थीं और करीब थींइसलिए प्रेमलाल ने लड़कियों को अनिल के घर जाने दिया।  शनिवार शाम को लगभग बजे, अनिल ने एक बच्ची का हाथ धोने के लिए उसे बेडरूम के पास लेकर गया और उसे खिड़की से नीचे फेंक दिया।  बच्ची नीचे कार की बोनट पर गिरी, जिससे उसकी मौत हो गई। 

आरोपी ने खुद पुलिस को दी जानकारी

बच्ची को नीचे फेंकने के बाद अनिल ने अपने आप को बेडरुम में बद कर लिया और पुलिस को खुल फोन कर इस बात की जानकारी दी कि उसने बच्ची को नीचे फेंक दिया है।  बच्ची के गिरने के बाद जोर की आवाज आई, जिसके बाद आसपास के लोगों ने बच्ची को सेंट जॉर्ज अस्पताल लेकर गए, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। फिलहाल पुलसि ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें